जनता के राशन में हुआ नया खेल, आधा दर्जन पर हुआ केस दर्ज

जनता के राशन में हुआ नया खेल, आधा दर्जन पर हुआ केस दर्ज

Akanksha Singh | Publish: Sep, 03 2018 07:54:12 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

शहर क्षेत्र में राशन कार्डों में आधार फीडिंग करने के नाम पर जनता को विभाग के साथ दुकानदारों ने जमकर एक खेल खेलने की बात सामने आयी है।

रायबरेली. शहर क्षेत्र में राशन कार्डों में आधार फीडिंग करने के नाम पर जनता को विभाग के साथ दुकानदारों ने जमकर एक खेल खेलने की बात सामने आयी है। यह सब सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों में हुआ है। करीब नौ आधार कार्डों से विभाग ने करीब एक हजार कार्डों में आधार फीडिंग करा दी और बाद में जब मामला मुख्यालय के अधिकारियों की पकड़ में आया तो इस बड़े मामले का खुलासा हुआ।

अब विभाग ने अपनी बदनामी से बचने के लिए आनन-फानन पूर्ति निरीक्षक की तहरीर शहर के आधा दर्जन दुकानों की दुकानों को निलंबित करते हुए कोटेदारों के खिलाफ सम्बन्धित धाराओं में केस दर्ज करा दिया है। इस मामले से कोटेदारों के ऊपर दर्ज हुए फर्जी मुकदमें से कोटेदारों में इस विभाग के प्रति काफी आक्रोश व्याप्त हो गया। बीते माह के पहले पखवारे में शहरी क्षेत्र के राशन दुकानों के पात्र गृहस्थी में आधार फीडिंग कराने के नाम पर विभाग से लेकर दुकानदारों तक ने जमकर खेल खेला। विभागीय सूत्रों की माने तो जुलाई माह आधार कार्डो की फीडिंग करने के लिए नौ आधार कार्डो का सहारा लिया गया और उसमें से करीब साढ़े नौ सौ कार्डो की फीडिंग करा दी गई। बाद में मुख्यालय स्तर पर जब मामला पकड़ा गया तो विभाग में हड़कंप मच गया।


शहर के आधा दर्जन कोटेदारों के खिलाफ एक साथ कार्रवाई होने से कोटेदारों में विभाग के प्रति रोष व्याप्त है। कोटेदारों का कहना है कि मामले की निष्पक्ष जांच की जाए और जो भी दोषी हो उसके खिलाफ संख्त कार्रवाई की जाए। उधर जब इस मामले की जानकारी करने का प्रयास किया गया तो सीयूजी नंबर बंद था। कार्यालय के अन्य अधिकारी इस मामले से पल्ला झाड़ते नजर आए। सूत्रों की माने तो विभाग के अधिकारी अपने को बचाने में जुटे हैं।


नहीं बचा कंप्यूटर आपरेटर भी, दर्ज हुआ केस

राशन घोटाले में जहां एक विभाग की पूर्ति निरीक्षक ने कोटेदारों के खिलाफ केस दर्ज कराते हुए फीडिंग कार्य में लगे कंप्यूटर आपरेटर को भी नहीं बक्शा। पूर्ति निरीक्षक की तहरीर पर पुलिस ने कंप्यूटर आपरेटर सुशील कुमार के खिलाफ भी केस दर्ज कर लिया है।

Ad Block is Banned