रायबरेली में ट्यूशन पढ़ने गए दो मासूमो को एक अध्यापिका ने दी ऐसी सजा,शिक्षिका ने बताया आरोप है निराधार

रायबरेली में ट्यूशन पढ़ने गए दो मासूमो को एक अध्यापिका ने दी ऐसी सजा,शिक्षिका ने बताया आरोप है निराधार

By: Madhav Singh

Published: 20 Jan 2021, 11:03 PM IST

रायबरेली . जिले के शहर कोतवाली क्षेत्र के बस्तेपुर में ट्यूशन पढ़ने गए दो मासूमो पर एक अध्यापिका ने ऐसी सजा दी कि जिसने भी बच्चों का हाल देखा उसने एक ही बात कही की इस तरह से मासूमों को नही पिटाई करनी चाहिये थी। अध्यापिका ने पहले छात्रों को जमकर पीटा और बाद में सिगरेट से छात्रों के हाथ गला व कान को जला दिया। पीड़ित छात्रों के परिजनों ने पुलिस से शिकायत की और मौके पहुची पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है ।

दो मासूमो को एक अध्यापिका ने दी ऐसी सजा

पूरा मामला रायबरेली जिले के शहर कोतवाली क्षेत्र के बस्तेपुर के रहने वाले विकास व राज जो कि कक्षा 4 व 6 के छात्र है,दोनो मासूम छात्र पड़ोस में ही रहने वाली शिक्षिका के यहां ट्यूशन पढ़ने जाते है। छात्रों की माने तो जब वह कल ट्यूशन पढ़ने गए तो मामूली बात पर शिक्षिका ने पहले दोनो छात्रों को जमकर पीटा और फिर सिगरेट से छात्रों के कान गले व हाथ को जला दिया। पीड़ित के परिजनों को जब छात्रों का दर्द दिखा तो फौरन उन्होंने पुलिस को सूचना दी मौके पर पहुची पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

अध्यापिका ने इस मामले में बताया

जब इस मामले में आरोप लगी शिक्षिका से उसके द्वारा दी इस विषय मे मासूमों को दी गई सजा के बारे में जानकारी की गई तो उन्होंने पूरी घटना को निराधार बताया और कहा कि मेरे द्वारा कुछ भी नही किया गया है छात्र खेल खेल में गिरे है जिससे उन्हें चोटें आई हुई है।

Madhav Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned