#अवैध निर्माण की जांच करने पहुंची प्रशासनिक टीम तो गायब हो गया होटल संचालक

#अवैध निर्माण की जांच करने पहुंची प्रशासनिक टीम तो गायब हो गया होटल संचालक

Shiv Singh | Publish: Sep, 12 2018 07:55:04 PM (IST) Raigarh, Chhattisgarh, India

बिना जांच कर ही बैरंग लौटी टीम

रायगढ़. सर के साईं श्रद्धा होटल में अवैध निर्माण किए जाने की शिकायत है। इस बात को लेकर राजस्व विभाग नजूल विभाग टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग नगर निगम वह पुलिस की टीम अवैध निर्माण की जांच करने के लिए पहुंची थी लेकिन इस चांद से बचने के लिए होटल संचालक गायब हो गया। ऐसे में प्रशासनिक अमले को बैरंग लौटना पड़ा।


शहर के रेलवे स्टेशन मार्ग स्थित नायक बाड़ा के पास साईं श्रद्धा होटल बनाया गया। उक्त स्थान पर ही रहने वाले चिन्मय महापात्रा के द्वारा होटल का निर्माण अवैध तरीके से किए जाने की शिकायत की थी। क्या सेक्स शिकायत कलेक्टर के पास की गई थी। शिकायत के दौरान शिकायतकर्ता के द्वारा अवैध निर्माण संबंधी दस्तावेज भी कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत किया गया था। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर ने इस में मौका निरीक्षण कर जांच किए जाने का निर्देश दिया।

Read more- Breaking : इंड एग्रो में बड़ा हादासा, काम करने के दौरान पांच मजदूरों की हालत गंभीर

वहीं इसके लिए टीम भी गठित की गई। इस टीम में टाउन एंड कंट्री प्लानिंग राजस्व विभाग नजूल विभाग नगर निगम के अलावा पुलिस को भी शामिल किया गया था। जांच किए जाने की एक दिन पूर्व ही होटल संचालक नरेंद्र जुनेजा को भी इस बात की सूचना दी गई थी कि बुधवार को होटल की जांच करने टीम पहुंचेगी।

वही इस का नोटिस भी होटल में चश्मा कर दिया गया था। बुधवार की दोपहर करीब 1:00 बजे प्रशासनिक टीम होटल पहुंची। इस दौरान होटल संचालक मौके पर उपस्थित नहीं था। ऐसे में टीम के द्वारा होटल के स्टाफ को सूचना भिजवाने का निर्देश दिया गया। लेकिन करीब 1 घंटे के इंतजार के बाद भी होटल संचालक मौके पर नहीं पहुंचा। इससे जांच की कार्यवाही नहीं हो सकी। ऐसे में प्रशासनिक अमले को बिना जांच के ही मौके से बैरंग लौटना पड़ा।

पंचनामा किया तैयार

होटल संचालक के मौके पर नहीं पहुंचने पर जांच की कार्यवाही तो नहीं हो सकी लेकिन प्रशासनिक टीम ने मौके पर पंचनामा तैयार किया। इस पंचनामे में इस बात का उल्लेख किया गया था कि जांच कार्यवाही होटल संचालक की अनुपस्थिति में नहीं हो सकी। विभागीय अधिकारियों की मानें तो यह जांच होटल संचालक की उपस्थिति में ही किए जाने का निर्देश दिया गया था। ऐसे में यह माना जा रहा है कि अब जब टीम जांच के लिए पहुंचेगी तब होटल संचालक यदि मौके पर उपस्थित नहीं रहेगा तब भी जांच की कार्यवाही की जाएगी।


-शिकायत के दौरान अवैध निर्माण के प्रमाण भी प्रस्तुत किए गए हैं। यदि यह शिकायत गलत रहती तो होटल संचालक मौके पर मौजूद रहता और जांच कार्यवाही में सहयोग करता लेकिन इस जांच से बचने के लिए होटल संचालक मौके से गायब है।
-चिन्मय महापात्रा शिकायतकर्ता

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned