व्यापारियों के साथ एएसपी ने की चर्चा, वस्तु क्रय के लिए सुबह पांच से नौ बजे तक का समय बताया महत्वपूर्ण, दिया ये लॉजिक

Coronavirus: शहर में लॉकडाउन है। ऐसी स्थिति में सोशल डिस्टेंसिंग बढ़ाने एएसपी ने व्यापारियों के साथ एक बैठक की। बैठक में कोरोना को हराने विचार-विमर्श किया गया।

रायगढ़. गुरुवार को एएसपी ने व्यापारियों की बैठक ली, जहां कई मुद्दों पर चर्चा हुई। इस दौरान व्यापारियों ने अपनी राय रखी। आवश्यक वस्तुओं के विक्रय के लिए समय सीमा सुबह 5 से 9 बजे है उसे आगे बढ़ाने पर विचार-विमर्श किया गया। इसके पीछे पुलिस-प्रशासन ने अपना लॉजिक बताया कि सुबह 5 से 9 बजे तक करने का उद्देश्य यह है कि इस समय में बहुत सारे लोग उठ नहीं पाते हैं और उनके परिवार का कोई एक सदस्य आकर सारा सामान ले जा सकता है। ऐसा करने से भीड़ कम होगी और अनावश्यक घूमने वाले लोगों पर भी पाबंदी लग सकेगी।

इससे सोशल डिस्टेंस मेनटेन होगा और कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा भी कम रहेगा। ऐसा नहीं होने से लोग इसे गंभीरता से नहीं लेंगे। वे अनावश्यक घूमते नजर आएंगे और न केवल स्वयं और अपने परिवार को खतरे में डालेंगे बल्कि पूरे शहर को खतरे में डाल देंगे।

Read More: लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी कर रहे आरक्षक ने बेवजह घूम रहे एक युवक से कहा- घर जाओ, युवक ने निकाला चाकू, गिरफ्तार

एएसपी ने कहा कि यह समझना बहुत आवश्यक है कि भीड़ भाड़ न हो। लॉक डाउन इसीलिए किया गया है, लेकिन लोग इसे गंभीरता से नहीं लेंगे तो कोरोना वायरस के संक्रमण से यह जिला भी अछूता नहीं रहेगा। प्रदेश में छह मरीजों की जानकारी मिल रही है। ऐसे में सतर्कता और समझदारी ही काम आएगी। यदि जिले में एक भी पॉजिटिव मरीज मिल गया। तो फिर प्रशासन और सख्त कदम उठाएगा, क्यों कि इसके अलावा और कोई चारा नहीं बचता है। इसलिए उन्होंने सहयोग की अपील की है।

आवश्यक वस्तुओं के परिवहन में लगी गाड़ियों को रोके जाने के संबंध में एएसपी ने यह स्पष्ट किया कि ऐसा नहीं हो रहा है। यदि ऐसा हो रहा है तो आप हमारी जानकारी में गाड़ी नंबर और स्थल दोनों तत्काल लाएं। ताकि हम उस जगह पर अपनी व्यवस्था को ठीक कर सकें।

उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा माल जो कि आवश्यक वस्तुओं के अंतर्गत नहीं आता है और उनकी गाड़ियां कहीं खड़ी है तो उसके गाड़ी नंबर एवं कहां लोडिंग अनलोडिंग होगी उसकी जानकारी हमें दें। उन्होंने यह भी कहा कि यदि आप कहीं माल सप्लाई कर रहे हैं और वह आवश्यक है तो उसे भी रात्रि 11 बजे के बाद सुबह 7 बजे तक अपने गंतव्य तक ले जाएं लेकिन उसकी सूचना पुलिस को जरूर दें। ताकि आपको कोई परेशानी ना हो। उनका कहना था कि यदि हम नौ बजे तक का समय करेंगे तो फिर गाड़ियां वापस जाने में। समय लगेगा इसलिए 8 बजे तक खाली कर दें ताकि नौ बजे तक वे गाड़ियां अपने गंतव्य की ओर निकल सकें।

Read More: Corona Effect: सड़क मार्ग से कोयला परिवहन घटा, बिजली प्लांटों में कोयला संकट गहराने की आशंका, ट्रक ड्राइवर ने ये कहा

पुलिस प्रशासन ने यह भी चेताया कि कुछ लोग तय कीमत से ज्यादा पर वस्तुएं बेचकर मुनाफाखोरी कर रहे हैं। ऐसी सूचनाओं पर यदि पुलिस को यह पुष्टि हो जाती है तो उक्त व्यापारी के खिलाफ प्रकरण दर्ज भी किया जाएगा और उसकी दुकान भी सील कर दी जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि। कुछ लोग आवश्यक वस्तुओं के विक्रय की आड़ में दूसरी दुकान भी खोल कर बैठ रहे हैं यदि वे ऐसा करते हुए पाए जाते हैं तो उनके विरुद्ध भी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

एएसपी ने कहा कि हम पहले भी अपील कर चुके हैं और अभी भी अपील कर रहे हैं कि जो पंजीकृत समाज सेवी संस्थाएं हैं। वे यदि इस कठिन परिस्थितियों में वॉलिंटियर्स की भूमिका निभाना चाहते हैं तो वे अपने सदस्यों की सूची नाम पता मोबाइल नंबर के साथ लिखकर हमें दें तो जरूरत पड़ने पर हम उनकी मदद लेकर इन कठिन परिस्थितियों में जिलेवासियों की और बेहतर सेवा कर पाएंगे।

Vasudev Yadav Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned