धुएं से बौखलाए मधुमक्खी, हेडमास्टर को डंक मारकर मधुमक्खियों ने किया घायल, बच्चों को ऐसे निकाला गया सुरक्षित

धुएं से बौखलाए मधुमक्खी, हेडमास्टर को डंक मारकर मधुमक्खियों ने किया घायल, बच्चों को ऐसे निकाला गया सुरक्षित

Vasudev Yadav | Publish: Mar, 17 2019 08:12:51 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

स्थानीय लोगों ने कहा कि पुलिस अगर ऐन वक्त पर नहीं पहुंचती तो अनहोनि घटना घटित हो सकती थी।

रायगढ़. भूपदेवपुर थाना क्षेत्र स्थित पिकनिक स्पॉट रामझरना में 17 मार्च को भयंकर हादसा हो गया। खाना बनाने के दौरान निकले धुएं से बौखलाए मधुमक्खियों ने पिकनिक मनाने गए स्कूली बच्चों पर हमला कर दिया। उसी समय अचानक पुलिस मौके पर पहुंची और थाने से तत्काल मच्छरदानी मंगाकर बच्चों को उसमें ढंक कर सुरक्षित बाहर निकाला गया। इस घटना में हेडमास्टर गंभीर रूप से घायल हो गया है। स्थानीय लोगों ने कहा कि पुलिस अगर ऐन वक्त पर नहीं पहुंचती तो अनहोनि घटना घटित हो सकती थी। ऐसे में सभी भूपदेवपुर पुलिस के इस कार्य की सराहना कर रहे हैं।

भूपदेवपुर टीआई चमन सिन्हा ने बताया कि 17 मार्च की दोपहर वह स्वयं देहात भ्रमण के लिए निकले थे। जैसे ही वे रामझरना के पास पहुंचे तो देखा कि वहां भगदड़ मच गई है, लोग गिरते-हपटते भाग रहे थे। ऐसे में उन्होंने किसी व्यक्ति से भगदड़ का कारण पूछा तो उन्होंने बताया कि मधुमक्खियों ने हमला कर दिया है। अंदर में करीब 150 लोग फंसे हुए हैं, जिनमें छोटे-छोटे स्कूली बच्चे भी शामिल हैं। इसके बाद टीआई ने तत्काल थाने में फोन कर स्टाफ से कहा कि सभी बैरकों में जितने भी मच्छरदानी है उसे लेकर और हेलमेट पहन कर तत्काल रामझरना पहुंचो। इसके बाद कुछ देर में पुलिस की रामझरना पहुंची और बचाव कार्य में जुट गई।

Read More : महिला को बचाने के फेर में बिगड़ा बैलेंस, डंपर से टकराई बोलेरो, एक महिला की मौत, नौ गंभीर रूप से घायल

पुलिस पहले बच्चों को किसी तरह सुरक्षित स्थान पर लेकर गई, जहां मधुमक्खियां नहीं आ रहे थे। इसके बाद दो-तीन ग्रुप बनाकर बच्चों को मच्छरदानी ढंक कर सुरक्षित बाहर निकाला है। पुलिस ने बताया कि जिस बस से स्कूली बच्चे व स्टॉफ पिकनिक मनाने गए थे, उसका चालक कहीं चला गया था। ऐसे में भूपदेवपुर थाने के स्टॉफ मन्नु यादव ने बस चलाकर बच्चों को थाने लेकर गए। इसके कुछ देर बाद में बस चालक भी आ गया। फिर वहां बच्चों की गिनती की गई। इसके बाद उन्हें वापस घरघोड़ा के लिए रवाना किया गया।

इसलिए मधुमक्खियों ने किया हमला
टीआई चमन सिन्हा ने बताया कि घरघोड़ा के भेंगारी मीडिल स्कूल के टीचर व स्टॉफ 56 बच्चों के साथ बस में सवार होकर भूपदेवपुर के रामझरना पिकनिकन मनाने आए थे। इस दौरान वे रामझरना के अंदर झरना के पास खाना बना रहे थे। वे इस बात से अंजान थे कि जिस स्थान पर वे पिकनिक मना रहे हैं वहां ऊपर पेड़ में मधुमक्खियों का छत्ता है। खाना बनाने के दौरान निकलने वाला धुआं मधुमक्खियों तक पहुंचने लगा तो वे बौखला गए और हजारों की संख्या में झुंड बनाकर वहां मौजूद सभी लोगों के ऊपर हमला बोल दिए। ऐन वक्त पर पुलिस पहुंच गई और किसी तरह लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया।

नहीं भाग पाया हेडमास्टर
पुलिस ने बताया कि स्कूल का हेडमास्टर मुकुंद गुप्ता मधुमक्खियों के हमले नहीं नहीं बच पाया और वहीं पर गिर गया। ऐसे में मधुमक्खियों के झुंड उस पर टूट पड़े। ऐसे में पुलिस ने हेडमास्टर को वहां से भागने का इशारा किया और फिर उस पर मच्छरदानी डाल कर उसे बाहर निकाला गया। पुलिस ने बताया कि हेडमास्टर मधुमक्खियों के डंक से बुरी तरह घायल हो गया है। जिसे एंबुलेंस बुलाकर इलाज के लिए मेकाहारा भिजवाया गया है। मधुमक्खियों के हमले से हेडमास्टर के अलावा दो-तीन आम लोग भी घायल हुए हैं, जोकि रामझरना आए हुए थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned