पौधरोपण कर रहे वनरक्षक को दो भाइयों ने वर्दी फाड़ते हुए दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, फिर जंगल में छिपकर काट रहे थे दिन, पुलिस ने ऐसे पकड़ा

पौधरोपण कर रहे वनरक्षक को दो भाइयों ने वर्दी फाड़ते हुए दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, फिर जंगल में छिपकर काट रहे थे दिन, पुलिस ने ऐसे पकड़ा
पौधरोपण कर रहे वनरक्षक को दो भाइयों ने वर्दी फाड़ते हुए दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, फिर जंगल में छिपकर काट रहे थे दिन, पुलिस ने ऐसे पकड़ा

Vasudev Yadav | Updated: 06 Oct 2019, 12:24:13 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

Forest Department: वन रक्षक से मारपीट मामले में पुलिस ने दो भाई को गिरफ्तार किया है। घटना को अंजाम देने के बाद जंगल में छिपकर रह रहे थे दोनों भाई।

रायगढ़. धरमजयगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत पौधरोपण करने गए वनरक्षक से मारपीट कर उसकी वर्दी फाडऩे वाले दोनों भाइयों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी पत्थलगांव भाग रहे थे, तभी पुलिस ने उन्हें घेर कर पकड़ लिया है।

इस संबंध में धरमजयगढ़ टीआई विवेक पाटले ने बताया कि घटना को अंजाम देने के बाद दर्रीडीह निवासी आरोपी भाई धनेश्वर व सोनू यादव तराईमार बीट में जंगल में छिप कर रह रहे थे। इधर पुलिस उनकी लगातार पतासाजी कर रही थी और मुखबिर का जाल भी बिछाया गया था। तभी पुलिस को पता चला कि आरोपी चोरी-छिपे अपने घर खाना खाने आते हैं। वहीं कभी-कभी उसका पिता उन्हें खाना पहुंचाने जंगल जाता है। ऐसे में पुलिस आरोपी के पिता पर नजर रख रही थी। तभी 2 अक्टूबर की रात पुलिस ने देखा कि आरोपी के पिता पुरनोराम यादव टिफिन लेकर जंगल की तरफ जा रहा था। ऐसे में पुलिस ने उसका पीछा किया और उसे जंगल के अंदर पकड़ लिया गया।

Read More: Chhattisgarh news
इसके बाद पुलिस ने पुरानोराम को साथ चलने को कहा। जंगल के अंदर नाला के पास पहुंचने पर पुलिस ने पुरनोराम को आवाज देकर अपने बेटों को बुलाने को कहा। पुरनोराम के आवाज देने पर उसके दोनों बेटे टार्च लेकर पास भी आ गए। पुलिस और आरोपियों के बीच सिर्फ एक नाला का ही फासला था। तभी पुरनोराम के पिता ने अपने भाषा में बातचीत कर अपने दोनों बेटों को हिंट दे दिया। इसके बाद दोनों आरोपी वहां से भाग निकले। इसी बीच 4 अक्टूबर की सुबह करीब 11 बजे पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि धनेश्वर व सोनू बाइक से पत्थलगांव अपने रिश्तेदार के यहां जा रहे हैं। तभी पुलिस ने घेराबंदी कर उन्हें धरमजयगढ़ के हॉस्पिटल चौक के पास पकड़ लिया। वहीं आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें रिमांड में जेल भेज दिया गया है।

इधर आरोपी की पत्नी ने भी थाने में की है शिकायत
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी धनेश्वर की पत्नी ने भी थाने में शिकायत की है कि उन्हें वन विभाग वाले लंबे समय से परेशान करते आ रहे हैं। उनकी जमीन को फॉरेस्ट वाले अपनी जमीन बता कर वहां पौधरोपण कर रहे थे। इस दौरान विवाद हुआ और मारपीट की घटना घटित हुई। इसके अलावा भी धनेश्वर की पत्नी ने पुलिस से अपने आवेदन में लंबी-चौड़ी शिकायत की है, जिसे पुलिस ने जांच में लिया है।
Read More: Chhattisgarh News

क्या था मामला
वन विभाग धरमजयगढ़ तराईमार में पदस्थ वनरक्षक दीपक नायक 1 अक्टूबर की दोपहर अपने समिति अध्यक्ष एवं सदस्य वन प्रबंधन समिति शेरबंद के साथ कक्ष क्रमांक 366 आरएफ जंगल में समिति के माध्यम से वृक्षारोपण कर रहा था। उसी समय धनेश्वर व उसका भाई सोनू यादव वहां आए और हमारी जमीन पर पौधरोपण नहीं करने देंगे कह कर दीपक की लात-घूसा व डंडे से बेदम पिटाई कर दिए थे। वहीं उसकी वर्दी भी फाड़ दिए थे। दीपक किसी तरह वहां से जान बचाकर भागा था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned