Video :- पुसौर क्षेत्र में खुलकर किया जा रहा है रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन

Vasudev Yadav | Publish: Apr, 22 2019 06:02:56 PM (IST) | Updated: Apr, 22 2019 06:02:57 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

इधर प्रशासन चुनाव में व्यस्त और उधर तस्कर रेत तस्करी में
लंबे समय से मिल रही शिकायत के बाद भी नहीं हो पायी कार्रवाई

रायगढ़. मंगलवार को होने वाले लोकसभा चुनाव में प्रशासन पूरी तरह से व्यस्त हो गयी है जिसके बेजा लाभ रेत तस्कर उठा रहे हैं। रेत तस्कर पुसौर क्षेत्र में खुलकर अवैध रूप से रेत का उत्खनन कर परिवहन करने में लगे हैं।
पुसौर क्षेत्र में निर्माणाधिन एनटीपीसी का काम शुरू होने के बाद इस क्षेत्र में रेत तस्करी करने वाले सक्रिय हो गए हैं और पिछले लंबे समय से पुसौर क्षेत्र में रेत तस्करी का खेल खुलकर किया जा रहा है। इसको लेकर आए दिन शिकायतें आती रहती है लेकिन शिकायत को लेकर जिला प्रशासन व खनिज विभाग गंभीर नहीे है जिसके कारण इनका हौसला बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को सुबह पुसौर के बड़माल क्षेत्र में जहां रेत घाट स्वीकृत नहीं है उक्त क्षेत्र में अवैध रूप से रेत का उत्खनन कर तीन ट्रेक्टर में लोड किया जा रहा था। यह हाल सिर्फ मंगलवार का नहीं है बल्कि रोजाना सुबह इस क्षेत्र में ८-१० ट्रेक्टर अवैध रूप से उत्खनन किए रेत का परिवहन करते देखा जा सकता है। यह कार्य सुबह के ७ बजे से शुरू होता है और शाम ५ बजे तक चलते रहता है। इस बात की जानकारी खनिज विभाग के अधिकारियों को नहीं है ऐसा भी नहीं है। कई बार इसको लेकर खनिज विभाग के अधिकारी और कलक्टर तक को शिकायत की जा चुकी है इसके बाद भी यहां पर कार्रवाई नहीं की जाती है जिसके कारण रेत तस्करों के हौसले और बढ़ते जा रहे हैं। अभी तो इनको यह भी पता है कि चुनाव के कारण अधिकारियेां की व्यस्तता बढ़ गई है इसलिए और भी बेखौफ होकर रेत का अवैध उत्खनन व परिवहन किया जा रहा है।

कार्रवाई के नाम पर होती है खानापूर्ति
पिछले कई सालों से उक्त क्षेत्र में रेत के अवैध उत्खनन व परिवहन का खेल चल रहा है इसको लेकर कार्रवाई के नाम पर विभाग के अधिकारी हमेशा खानापूर्ति करते हैं। कभी जांच के दौरान वाहन न मिलने की बात सामने आती है तो कभी गिने चुने वाहन पकडक़र कार्रवाई की खानापूर्ति कर ली जाती है।

आंदोलन के बाद हुई थी कार्रवाई
पूर्व में छजकां के पदाधिकारियों द्वारा इस क्षेत्र में रेत तस्करों के खिलाफ आंदोलन किया गया था तो करीब २०० ट्रेक्टर रेत लावारिश स्थिति में डंप किया हुआ मिला था। जिसको लेकर संबंधित भू-स्वामी को नोटिस भी जारी किया गया था इसके बाद इसमें क्या हुआ किसी को पता नहीं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned