अब इंदिरा विहार को सिटी फारेस्ट के रूप में किया जाएगा विकसित, सीसीएफ अरुण पांडेय ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

सीसीएफ अरुण पांडेय एक दिवसीय दौरे पर शहर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने सारंगढ़ रेंज और रायगढ़ रेंज का निरीक्षण किया। इसके अलावा विभागीय अधिकारियों की बैठक भी ली।

By: Shiv Singh

Published: 30 Dec 2018, 01:25 PM IST

रायगढ़. बिलासपुर से सीसीएफ अरुण पांडेय एक दिवसीय दौरे पर शहर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने सारंगढ़ रेंज और रायगढ़ रेंज का निरीक्षण किया। इसके अलावा विभागीय अधिकारियों की बैठक भी ली। बैठक के दौरान सीसीएफ ने निर्देश दिया कि इंदिरा विहार को सिटी फारेस्ट के रूप में विकसित किया जाएगा। ताकि लोगों को शहर के बीच इंदिरा विहार जाने पर जंगल में होने का एहसास हो सके। इसके अलावा वन भूमि पर अतिक्रमण रोकते हुए उसे सुरक्षित किए जाने का निर्देश भी विभागीय अधिकारियों को दिया।

बताया जा रहा है कि अरुण पांडेय जब से सीसीएफ के रूप में पदभार ग्रहण किए थे, तब से वे एक बार भी रायगढ़ का दौरा नहीं किए थे। ऐसे में सीसीएफ अरुण पांडेय शुक्रवार को रायगढ़ जिला मुख्यालय पहुंचे। इस दौरान पहले से रायगढ़ वन मंडल के सारंगढ़ रेंज पहुंचे। यहां उन्होंने विभिन्न स्थानों का निरीक्षण करने के बाद सारंगढ़ रेंज में किए गए पौधों का प्लांटेशन देखने पहुंचे।

Read More : लोचन नगर में सड़क निर्माण कार्य चल रहा था जोरों पर, अचानक पहुंचे क्षेत्र के लोग, काम कराया बंद

इस दौरान उन्होंने विभागीय अधिकारियों को जो प्लांटेशन किए गए हैं, उनके अलावा अन्य प्रजातियों के पौधों का प्लांटेशन किए जाने का निर्देश दिया। वहीं इसके बाद वे जिला मुख्यालय पहुंचे। इस दौरान वे शहर से लगे वन विभाग पार्क इंदिरा विहार पहुंचे। इंदिरा विहार शहर से लगा हुआ है। शहर से कुछ दूरी पर ही वन विभाग के इस पार्क को देखने के बाद काफी प्रभावित हुए। वहीं उन्होंने इंदिरा विहार को सिटी फारेस्ट के रूप में विकसित करने का निर्देश दिया। उनका कहना था कि इंदिरा विहार का पूरा एरिया शहर से सटा हुआ है। ऐसे में यदि इंदिरा विहार को सिटी फारेस्ट के रूप में विकसीत किया जाता है तो इसका लाभ पूरे शहरवाहियों को मिलेगा। इंदिरा विहार का निरीक्षण करने के बाद वे विभागीय कार्यालय पहुंचे। यहां उन्होंने विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। बैठक के दौरान उन्होंने वन भूमि को अतिक्रमण से रोकने के लिए निर्देश दिया। साथ ही यह कहा कि वन भूमि को पूरी तरह से सुरक्षित किया जाए। इस कार्य में लापरवाही करने पर कार्रवाई किए जाने के संकेत भी दिए।

यह सुविधा की जाएगी विकसित
इंदिरा विहार को सिटी फारेस्ट के रूप में विकसीत किए जाने के बाद काफी सुविधा भी विकसित की जाएगी। सीसीएफ ने आदेश दिया है कि इंदिरा विहार का जो मुख्य गेट है। वह काफी पीछे है। इस गेट को बेरियर के पास बनाए जाने का आदेश दिया। इसके अलावा इंदिरा विहार आने वाले पर्यटकों के लिए बैठने, पानी व चलने के लिए बेहतर सड़क की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। इसके अलावा घास भी लगाने का निर्देश दिया गया है। ताकि इसका लाभ लोगों को मिले।

सीमेंट की बजाए नुडल आर्ट की होगी कलाकृति
सीसीएफ अरुण पांडेय ने जब निरीक्षण करने पहुंचे तो वहां सीमेंट से कलाकृति बनाई जा रही थी। ऐसे में सीसीएफ ने इसमें आपत्ति की। वहीं उनका कहना था कि मौजूदा समय में जो कार्य सीमेंट से हो गए हैं वे तो ठीक है, लेकिन इसके अलावा अन्य सजावट के कार्यों को नुडल आर्ट (लकड़ी की कलाकृतियां) के माध्यम से कराए जाने का निर्देश दिया। वहीं इस निर्देश का पालन किए जाने का आदेश भी दिया।

-एक दिवसीय दौरे पर सीसीएफ यहां पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने सारंगढ़ व रायगढ़ का निरीक्षण किया। साथ ही इंदिरा विहार को सिटी फारेस्ट के रूप में विकसीत किए जाने का निर्देश भी दिया है- एनआर खुंटे, एसडीओ, रायगढ़

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned