scriptInnocent children are getting hot due to the rising heat of summer | गर्मी का पारा बढऩे से गर्मी से तपने लगे हैं मासूम बच्चे | Patrika News

गर्मी का पारा बढऩे से गर्मी से तपने लगे हैं मासूम बच्चे

विभाग को आदेश का इंतजार
सारंगढ़। होली के बाद से गर्मी का पारा लगातार बढ़ते जा रहा है। सुबह १० बजे के बाद धूप लोगों को चूभने लगी है ऐसी स्थिति में स्कूल जाने वाले मासूम बच्चों को दोपहर में घर वापस लौटने में गर्मी से तपना पड़ रहा है। हांलाकि हर वर्ष समय में फेरबदल होता है लेकिन इस बार अब तक लिखीत आदेश न आने के कारण विभाग आदेश का इंतजार कर रही है।

रायगढ़

Published: March 28, 2022 07:49:48 pm

शिक्षकों की माने तो विभाग द्वारा आदेश जारी करने के बाद क्षेत्र में संचालित सभी प्राथमिक और पूर्व माध्यमिक कक्षा संभवत आदेश के बाद सुबह 7.30 बजे से 11.30 बजे तक संचालित हो सकती है इसके अलावा वार्षिक परीक्षाओं की समय सारिणी पूर्ववत रहेगा उन्होंने आगे बताया कि इस वर्ष शिक्षण सत्र 1 अप्रैल से शुरू होगा जो 15 मई तक चलेगा 15 मई से 15 जून तक ग्रीष्म कालीन अवकाश रहेगा। इधर गर्मी में स्कूल खोले जाने का निर्णय पर अभिभावकों ने कहा कि कोरोना के पहले के समय में स्कूलों में 1 मई से 15 जून तक गर्मी की छुट्टी हो जाती थी नया आदेश के तहत इस अवधि में स्कूल खोलने का निर्णय स्वागत योग्य है कुछ पालक इसका विरोध करते हुए कहते हैं कि मई के महीने में तापमान अधिक होने के कारण लू की स्थिति रहती है इस हालात में स्कूल खोलना बच्चों के हित में नहीं है। विदित हो कि कोरोनावायरस के चलते मार्च 2020 में स्कूल बंद करना पड़ा था ऐसे में बच्चों की पढ़ाई ऑनलाइन कराई गई थी इस साल छुट्टी में कटौती कर दी गई है यह छुट्टी डेढ़ महीने की नहीं होकर करीब 1 महीने की हो गई है स्कूल शिक्षा विभाग ने जारी आदेश में वर्तमान शैक्षणिक सत्र 31 मार्च से बढ़ाकर 30 अप्रैल तक कर दिया है।
कई स्कूलों में तो पंखे तक नहीं
क्षेत्र के कई स्कूल तो ऐसे हैं जहां पर पंखे की भी सुविधा नहीं है ऐसी स्थिति में इतनी तेज गर्मी में दोपहर को स्कूलों का संचालन बच्चों के लिए समस्या बनती दिख रही है। हांलाकि विभाग भी इसके लिए आदेश जल्द ही मिलने की बात कह रहा है।
मार्च में ही पहुंच गया पारा ४० डिग्री
गर्मी की बात करें तो पिछले साल के मुकाबले इस वर्ष मार्च महीने में ही पारा 40 डिग्री तक पहुंच गया है अप्रैल में इसके बदले बढऩे की संभावना है जानकारों का कहना है कि इस वर्ष तापमान 44 से 46 डिग्री तक जा सकता है सुबह 10 बजे से ही लू के हालात बन सकते हैं। ऐसी स्थिति में पालकों का कहना है कि गर्मी में बच्चों के स्वास्थ्य पर विपत्ति प्रभाव पड़ेगा कई तरह की बीमारी बच्चों को हो सकती है।
गर्मी का पारा बढऩे से गर्मी से तपने लगे हैं मासूम बच्चे
तेज धूप के बीच स्कूल से घर जाते हुए बच्चे

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.