चंद हजार व बेरुखी के कारण गुजरात में फंसी है महिला, अब नहीं ले रहा कोई सुध

महिला भटकते हुए अहमदाबाद पहुंच गई। इस दौरान २९ अप्रैल २०१६ को नारी संप्रेक्षण निकेतन हिम्मत नगर अहमदाबाद के आसपास देखा गया।

By: Rajkumar Shah

Published: 10 Feb 2018, 10:34 AM IST

रायगढ़. जिले की एक महिला की मानसिक स्थिति एक साल पहले खराब हो गई। ऐसे में वो भटकते हुए अमदाबाद पहुंच गई। यहां पर महिला को लापता मान लिया गया, वर्तमान में महिला की पूरी स्थिति प्रशासन के साथ परिवारवालों को स्पष्ट हो गई है इसके बाद भी न तो प्रशासन की ओर से उसे लाने की पहल की जा रही है और न ही परिवार वाले उसको लेकर कोई रुचि ले रहे हैं।


मिली जानकारी के अनुसार अहमदाबाद में नारी निकेतन संस्था के लोगों को वो महिला मिली थी, वहां उसका इलाज करवाया गया इसके बाद उसने अपना पता बताया जिससे स्पष्ट हुआ कि वो लैलूंगा की है। इसके बाद उसे कई बार महिला बाल विकास को उक्त महिला को ले जाने की सूचना दी गई इसके बाद महिला बाल विकास के तरफ से कोई पहल नहीं हो रही है।


लैलूंगा थाना क्षेत्र के ग्राम हीरापुर निवासी फुलबाई मांझी पति आनंद माझी २०१६ में मानसिक स्थिति खराब होने के कारण घर से निकल गई थी। इसके बाद उसके परिजनों ने उक्त महिला की गुमशुदगी की रिपोर्ट लैलूंगा थाना में दर्ज कराया गया। तब से कुछ दिन तक पुलिस भी उक्त महिला की तलाश कर रही थी, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका। उक्त महिला भटकते हुए अहमदाबाद पहुंच गई। इस दौरान २९ अप्रैल २०१६ को नारी संप्रेक्षण निकेतन हिम्मत नगर अहमदाबाद के आसपास देखा गया। जिस पर नारी निकेतन के अध्यक्ष चेतना बेन की नजर उक्त महिला पर पड़ी।

चेतना बेन ने महिला को पकड़ कर उससे नाम पता पूछने की काफी कोशिश की, लेकिन उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण उसने कुछ बताने की स्थिति में नहीं थी। इसके बाद नारी निकेतन के अध्यक्ष चेतना बेन ने उक्त महिला का इलाज शुरू कराया। जिसके बाद महिला पूरी तरह से ठीक हो गई। इसके बाद उक्त महिला ने रायगढ़ जिला के लैलूंगा थाना क्षेत्र के होना बतायी। इसके बाद अहमदाबाद से लगातार रायगढ़ महिला बाल विकास के पास आ रहा है कि उक्त महिला अपने घर जाना चाह रही है। इसको आकर ले जाओ लेकिन विभाग मौन बैठा हुआ है।

तीन बार मंत्रालय से आ गई सूचना
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार महिला को ले जाने के लिए अहमदाबाद से रायपुर मंत्रालय को भी तीन बार सूचित कर दिया गया है। वहीं मंत्रालय से रायगढ़ भी बार-बार फोन आ रहा है कि उक्त महिला को रायगढ़ लाया जाए लेकिन विभाग आदमी और पैसा का रोना रोकर उक्त महिला को लाने में असमर्थता जता रही है। इस कारण महिला अहमदाबाद में है।

Rajkumar Shah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned