Janmashtami : कृष्ण जन्मोत्सव की बिखरी है खुशियां, रात 12 बजे अवतरित हुए प्रभु नंदलाल

Janmashtami : कृष्ण जन्मोत्सव की बिखरी है खुशियां, रात 12 बजे अवतरित हुए प्रभु नंदलाल

Shiv Singh | Publish: Sep, 04 2018 03:09:16 PM (IST) Raigarh, Chhattisgarh, India

पूरा माहौल श्रीकृष्णमय हो गया

रायगढ़. शहर में जन्माष्टमी मेले की शुरुआत शनिवार से हो चुकी है। पहले दिन से ही श्रद्धालुओं की भीड़ उमडऩी शुरू हो गई है। शहर के दोनों मंदिरों के आसपास कहीं बांसुरी की तान सुनाई दे रही है तो श्रीकृष्ण भजन गूंज रहे हैं। इससे पूरा माहौल श्रीकृष्णमय हो गया है। मेले को लेकर शहर की समाजसेवी संस्थाओं द्वारा जगह-जगह भंडारे का आयोजन किया गया है वहीं स्वास्थ्य शिविर भी लगाया गया है। जबकि सोमवार को कई स्थानों पर दही हांडी का आयोजन भी किया गया।


रविवार की सुबह से ही श्रद्धालु झांकियों को देखने के लिए गौरी शंकर मंदिर व श्याम मंदिर के पंडाल में पहुंच रहे थे। रविवार को देर रात तक श्रद्धालुओं की भीड़ थी। यह सिलसिला सोमवार को भी देखने को मिला। सोमवार की सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ सड़कों पर नजर आ रही थी। मेले में पहुंचने वाले लोगों के लिए जगह-जगह भंडारे का आयोजन भी किया गया है। शहर के राम निवास टाकीज चौक पर दो से तीन संस्थाओं के द्वारा भंडारा लगाया गया है।

इसके अलावा गौरी शंकर मंदिर मार्ग पर भी विभिन्न संस्थाओं के द्वारा भंडारा लगाया है। सुबह से ही भंडारे का प्रसाद वितरण शुरू कर दिया गया है। इसके अलावा लोगों के स्वास्थ्य जांच के लिए शिविर लगाया गया है।


शहर के अन्य मंदिरों में भी रही धूम
शहर के भुजबंधान तालाब स्थित राम मंदिर में भी कृष्ण जन्माष्टमी धूमधाम से मनाया गया। मंदिर में शाम से भजन, कीर्तन का शुरू हो गया था। रात 12 बजे श्री कृष्ण जन्मोत्सव के बाद प्रसाद का वितरण किया गया। इसी तरह जगन्नाथ मंदिर में भी जन्माष्टमी की धूम रही। यहां जगन्नाथ सेवा समिति के द्वारा रविवार की रात ही जन्माष्टमी पर्व मनाया गया। इस दौरान यहां बच्चों के लिए कुर्सी दौड़ प्रतियोगिता आयोजित की गई थी।

इससे बच्चों में काफी उत्साह देखने को मिला। इसके बाद भजन-कीर्तन का आयोजन किया गया। वहीं देर रात भगवान का जन्मोत्सव मनाते हुए प्रसाद वितरण किया गया।

Read more : मुसीबत से बचने के लिए स्पीड पोस्ट से भेजेंगे अंतिम नोटिस, लगातार छुट्टियों से कुछ दिन और मिली राहत


खचाखच भीड़
जन्माष्टमी मेला के लिए हर साल हजारों की संख्या में श्रद्धालु यहां आते हैं। इस बार भी आसपास ग्रामीण क्षेत्रों से हजारों की संख्या में श्रद्धालु यहां पहुंच रहे हैं। इन्होंने श्याम बगीची और गौरी शंकर मंदिर में लगी झांकियों का दर्शन किया।


चुस्त रही पुलिस की व्यवस्था
सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था भी चाक-चौबंद रही। गौरी शंकर मंदिर में जहां व्यापक पैमाने पर पुलिस बल तैनात किए गए थे। यातायात की समस्या न आए इसके लिए गोपी टाकीज मार्ग पर बेरिकेट्स लगा दिया गया था। इसी तरह सुभाष चौक मार्ग पर भी बेरिकेट्स लगाते हुए चार पहिया वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। इसी तरह श्याम मंदिर के पास भी सुरक्षा की दृष्टि से व्यापक इंतजाम किए गए हैं। इसक अलावा जगह-जगह अतिरिक्त पुलिस बल भी मौजूद था।

Ad Block is Banned