आरटीई : ड्रा में चयनित बच्चों की सूची हुई गायब अब फिर से निकाली जाएगी लाट्री, प्रवेश बना मजाक

आरटीई : ड्रा में चयनित बच्चों की सूची हुई गायब अब फिर से निकाली जाएगी लाट्री, प्रवेश बना मजाक

Vasudev Yadav | Publish: May, 26 2019 06:55:13 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

- पालकों में आक्रोश

रायगढ़. शिक्षा के अधिकार कानून के तहत गरीब बच्चों को ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से प्रवेश मजाक बनकर रह गया है। चक्रधर नगर हाई स्कूल नोडल केंद्र में दो मई को हुए लॉट्री में चयनित बच्चों की सूची गायब हो गई और अब चयनित बच्चों के पालकों के पास री-लॉट्री के लिए मैसेज आ गया। सोमवार को यहां री-लाट्री होना है। इसको लेकर चयनित बच्चों के पालकों में काफी आक्रोश व्याप्त है।

चक्रधर नगर हाई स्कूल आरटीई में कमजोर वर्ग के बच्चों को प्रवेश दिलाने के लिए नोडल केंद्र है। तीन अप्रैल तक ऑनलाईन आवेदन लेने के बाद नियमानुसार दो मई को यहां भी सेंट जेवीयर और रैंबो इंग्लिस मीडियम स्कूल के लिए लाट्री हुआ। इस लॉट्री में सेंट जेवीयर स्कूल के लिए निकाली गई लॉट्री में आरक्षित 20 सीट के लिए 20 छात्रों का नाम आया। जिसकी सूची पोर्टल से प्रिंट कर नोटिस बोर्ड में चस्पा भी किया गया और संबंधित पालकों के पास आवेदन एपु्रव्ड होने व प्रवेश कराने के लिए मैसेज भी आया। दूसरे दिन जब पालक प्रवेश के लिए पहुंचे तो लॉट्री न होने की बात कहते हुए वापस कर दिया गया। वहीं नोडल केंद्र द्वारा भी इसमें पालकों को संतोषपूर्ण जवाब नहीं दिया गया। जिसके कारण पालक परेशान होते रहे।
Read More : बस स्टैंड में प्रेमी जोड़े के बीच हो गई अनबन, देखते ही देखते प्रेमी ने उठा लिया ये खौफनाक कदम

कुछ दिनों पूर्व उक्त नोडल केंद्र से फिर एक बार संबंधित पालकों के मोबाइल नंबर पर मैसेज आया है जिसमें री-लॉट्री करने के लिए सोमवार की तिथि में उपस्थित होने के लिए कहा गया है। इस मैसेज के आने के बाद जब पालक नोडल केंद्र इसके बारे में जानकारी लेने के लिए पहुंचे तो पहले लॉट्री न हो पाने के कारण अभी फिर से करने की बात कही गई। ये हाल सिर्फ चक्रधर नगर हाई स्कूल नोडल केंद्र का नहीं है और भी कई केंद्रों में ऐसी स्थिति बनी हुई है। जिसके कारण पालक परेशान हो रहे हैं और शिक्षा विभाग के अधिकारियों के प्रति पालकों में आक्रोश व्याप्त हो रहा है।

-पहले लॉट्री हुआ था लेकिन चयनित सूची पोर्टल में अब नहीं दिख रहा है वह एपु्रव्ड नहीं हो पाया। इसके लिए डीईओ के माध्यम से रायपुर कई बार पत्र भी लिखा गया है। लेकिन सूची दिख ही नहीं रहा है जिसके कारण दोबारा लॉट्री करना पड़ रहा है - राजेश डेनियल, प्राचार्य नोडल केंद्र

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned