एमएसपी स्टील एंड पावर कंपनी के कर्मचारी की मौत बनी पहले, कैंटीन के पीछे बेल्ट से लटकता मिला था शव

सुबह जब वो उठे तो उन्होंने उसका शव कैंटीन के पीछे बरगद के पेड़ में लटका हुआ पाया। उसका शव उसी के बेल्ट से लटका हुआ पाया गया।

रायगढ़. चक्रधर नगर थाना क्षेत्र के जामगांव स्थित स्टील पावर कंपनी की कैंटीन में काम करने वाले व्यक्ति की लाश सदिग्ध अवस्था में बरगद के पेड़ पर लटकती हुई पायी गयी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है और जांच कर रही है।

अनजान लाश के पीछे थी खतरनाक प्रेम कहानी, दूसरे प्रेमी के साथ मिलकर पहले आशिक के साथ खेला खुनी खेल

जानकारी के अनुसार जयंत राय (23) पिता माणिक राय निवासी राधानगर पंचमुरा पश्चिम बंगाल एमएसपी स्टील एंड पावर कंपनी जामगांव की कैंटीन में काम करता था। रात में कैंटीन से काम खत्म होने से पहले ही वह वहां कमरे में जाने की बात कह कर चला गया। जब उसके साथी कर्मचारी वहां पहुंचे तो उन्हें वो वहां नहीं मिला।

40 घंटे में 200 किलोमीटर पैदल चलकर बचाई जान, मजदूर हो गए थे मानव तस्करी के शिकार

उसके साथी थके हुए थे उन्हें लगा की कहीं किसी काम से बाहर गया होगा। इसलिए उन्होंने उसकी तलाश नहीं की। सुबह जब वो उठे तो उन्होंने उसका शव कैंटीन के पीछे बरगद के पेड़ में लटका हुआ पाया। उसका शव उसी के बेल्ट से लटका हुआ पाया गया।

कुष्ठ विभाग के अधिकारी ने नशीली दवाएं देकर नाबालिग का अश्लील वीडियो बनाया और तीन साल तक किया दुष्कर्म

बंसत गिरी और संजीव ने उसे फांसी पर लटका देखा तो कैंटीन मैनेजर प्रशांत डे और मालिक विकास को जानकारी दी। इन लोगों ने चक्रधर नगर पुलिस को सूचना दी।उसकी सुचना पर पहुंची पुलिस ने प्रथमदृष्टया इसे आत्महत्या का मामला माना लेकिन मौके से किसी भी तरह का कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ। जिसके कारण उसकी मृत्यु को संदिग्ध माना जा रहा है। पुलिस हत्या के दृष्टिकोण से भी इसकी जांच कर रही है।

Karunakant Chaubey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned