सलासर उद्योग के खिलाफ नहीं हो रही कार्रवाई, सिर्फ नोटिस थमाकर शांत हुआ प्रशासन

सलासर उद्योग के खिलाफ नहीं हो रही कार्रवाई, सिर्फ नोटिस थमाकर शांत हुआ प्रशासन

Vasudev Yadav | Updated: 18 May 2019, 12:41:20 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

- जांच टीम को मिली थी खामियां

रायगढ़. गेरवानी के समीप स्थित सलासर उद्योग में मिली अनियमितताओं को लेकर संयुक्त टीम ने नोटिस के बाद आगे की कार्रवाई को ठंडे बस्ते में डाल दिया है। जबकि उद्योग प्रबंधन द्वारा इस मामले को लेकर निर्धारित समय अवधी के कई दिनों बाद टीम के समक्ष अपना जवाब प्रस्तुत किया है।
सलासर उद्योग द्वारा गेरवानी व आस-पास के अन्य क्षेत्रों में लगातार अत्याधिक मात्रा में प्रदूषण फैलाने की बात को लेकर शिकायतें आती रही है जिसको लेकर कलक्टर के निर्देश पर संयुक्त टीम ने दबिश देकर मार्च के अंत में जांच किया था।

जांच के दौरान कई प्रकार की अनियमितता मिली थी। कंपनी प्रबंधन द्वारा उद्योग संचालन के लिए मापदंडों को पूरा नहीं किया जा रहा था। साथ ही इस बात की पुष्टी भी हुई थी कि उद्योग प्रबंधन क्षेत्र में प्रदूषण फैला रहा है जिसके कारण क्षेत्र के लोग परेशान हैं। जांच के बाद जारी नोटिस में पांच दिनों के भीतर जवाब पेश करने के लिए कहा गया था। देखने में यह आया कि पांच दिनों में जवाब ही नहीं दिया गया। हांलाकि बाद में कंपनी प्रबंधन ने संयुक्त टीम के समक्ष अपना जवाब पेश किया है लेकिन अभी तक न तो जवाब का परीक्षण किया गया है न ही इस मामले में आगे कोई कार्रवाई की गई है। जिसके कारण आज भी कंपनी प्रबंधन अपनी मनमानी कर रहा है।

Read More : बकरी चराने गया बालक आंधी-तूफान से बचने पेड़ की खोह में छिपा, फिर हो गई मौत

ये मिला था जांच में
मटेरियल हेंडलिंग सेक्सन के कोल सर्किट से अत्याधिक मात्रा में कोल डस्ट का उत्सर्जन हो रहा था इसके पीछे कारण यह है कि इसका बैग फिल्टर काम नहीं कर रहा था। आयरन ओर फाईन्स के भंडारण स्थल में अनुज्ञा संबंधी किसी भी प्रकार का सूचना पटल नहीं लगाया गया था न ही उक्त स्थल का सीमांकन या घेराबंदी किया गया था। आयरन और फाईंन्स के साथ भंडारण स्थल पर अन्य खनिज डोलोमाईट का होना पाया गया। भंडारण स्थल पर आयरन ओर फाईंस 1343 एमटी और पैलेट 28 एमटी आयरन ओर 1557 एमटी, मिला इसके साथ कोयले का भंडारण भी किया गया है। इसके साथ ही जांच टीम को मौके पर कोई भी अग्निशमन यंत्र नहीं मिला। जिसे नजरंदाज किया गया है।

जांच टीम ने 65 नग सिलेंडर किया था जब्त
सलासर उद्योग में संयुक्त टीम द्वारा की गई जांच के दौरान 20 नग घरेलू गैस सिलेंडर और 45 नग कॉमर्शियल गेस सिलेंडर भरा हुआ मिला। उक्त सिलेंडर से संबंधित किसी भी प्रकार का दस्तावेज मौके पर पेश नहीं किया गया जिसके कारण सभी सिलेंडर को जब्त कर लिया गया है। इसके अलावा जांच के दौरान उद्योग परिसर में कार्यरत कर्मचारियों को पर्याप्त सुरक्षा सामग्री उपलब्ध नहीं कराया गया था। जबकि नियमानुसार कर्मचारियों को सुरक्षा के आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराने का प्रावधान है। इसके बाद भी कंपनी प्रबंधन ने इसको नजरअंदाज कर रखा था।

-जांच के बाद मिली कमियों को लेकर नोटिस जारी किया गया था। उद्योग प्रबंधन का जवाब आया है जिसका परीक्षण के लिए दिया गया है। जवाब परीक्षण के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। एसएस नाग, उप संचालक खनिज विभाग, रायगढ़

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned