आदर्श ग्राम बनाने तीन माह में एक भी गांव का चयन नहीं कर पाए विधायक, इस बात से ही अनजान...

- मामले को लेकर विधायक गंभीर नहीं

By: Vasudev Yadav

Updated: 29 Mar 2019, 01:00 PM IST

रायगढ़. विधायक आदर्श ग्राम बनाने के लिए हर विधायक को एक-एक गांव गोद लेना था। दूसरे चरण तक की स्थिति में दो-दो गांव में पूर्व विधायकों ने गोद लेकर कुछ काम कराया, लेकिन तीसरे चरण की शुरूआत अभी नहीं हो पायी है। नए विधायक तो इस बात से ही अनजान है कि शासन से इसके लिए कोई आदेश आया भी है या नहीं।

वर्तमान में जिले के पंाचों विधानसभा के विधायक कांग्रेस पार्टी से हैं और राज्य में शासन सत्ता भी उन्हीं की है। सरकार बने तीन माह से अधिक हो गया है, लेकिन अभी तक इन विधायकों को इतनी फुर्सत नहीं है कि वह आदर्श ग्राम बनाने के लिए गांव का चयन कर सकें। जानकारों की माने तो विधायकों के पास इस संबंध में एक बार पत्र भी आ चुका है, लेकिन इसे लेकर कोई भी विधायक गंभीर नहीं है।

इसके कारण अभी तक तीसरे चरण में कौन गांव गोद लिए जाएंगे, इसका पता नहीं चल पाया है। नियमानुसार देखा जाए तो हर साल एक ग्राम हर विधायक को गोद लेना है, लेकिन शुरूआत में ही तीन माह निकल गए ऐसे में गांव का चयन करने से लेकर उसको आदर्श ग्राम बनाने के लिए महज ९ माह ही शेष रह गए हैं।

Read More : 17 लाख के आभूषण के साथ दो आरोपी गिरफ्तार
फिर से होगी खानापूर्ति
विधायक आदर्श ग्राम में मुलभूत सुविधाओं की आज तक है। कुछ ऐसा ही हाल इस बार भी होने की आशंका जताई जा रही है।

दोनों में क्या है अंतर
सामान्य गांव में भी जनपद पंचायत व पंचायत के सहारे सड़क, नाली, बिजली व पानी की सुविधा दी जाती है। विधायक आदर्श ग्राम में भी पूरे साल भर यही काम दिखाया जाता है लोगों के समझ में यह नहीं आ रहा है कि जब दोनो ही ग्रामों में सड़क, नाली, बिजली व पानी का ही काम होना है तो फिर विधायक आदर्श ग्राम का औचित्य क्या है?

क्या है आदर्श ग्राम
आदर्श ग्राम का नाम सुनते ही लोगों के मन में यह बात आती है कि वहां सामान्य गांव से हटकर होगा। आदर्श गांव में खेल मैदान, स्कूल भवन से लेकर सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए निर्धाारित स्थल व अन्य कई सविधाएं होती हैं।

-८-१० दिन पहले शासन से विधायक गोद ग्राम के लिए पत्र आया है। इसके लिए जल्द ही एक बैठक कर तय किया जाएगा कि किस गांव को गोद लिया जाना पहले जरूरी है- उत्तरी जांगड़े, विधायक सारंगढ़

-गोद ग्राम का चयन अभी नहीं किया गया है। कार्यक्रमों की व्यस्तता थी और अब आचार संहिता लग गया है। आचार संहिता हटने के बाद ही गोद ग्राम का चयन किया जाएगा- प्रकाश नायक, विधायक रायगढ़

-विधायक गोद ग्राम का चयन करने के लिए शासन से आदेश आने का इंतजार है। अब तो आचार संहिता लागू हो गई है इसके बाद ही शासन के निर्देशानुसार काम होगा- लालजीत राठिया, विधायक धरमजयगढ़

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned