scriptPaddy purchase: Agriculture land less but acreage increased | रिकॉर्ड में कम हो रही कृषि जमीन, इधर धान खरीदी केंद्रों में बढ़ गया 20-60 प्रतिशत तक रकबा | Patrika News

रिकॉर्ड में कम हो रही कृषि जमीन, इधर धान खरीदी केंद्रों में बढ़ गया 20-60 प्रतिशत तक रकबा

Paddy Purchase: बढ़े हुए रकबे को लेकर जताया जा रहा संदेह, उपार्जन केंद्रों में कहीं बोगस खरीदी (Bogus purchase) की फिर तैयारी तो नहीं, किसान पंजीयन (Farmers Registration) के आंकड़ों को सार्वजनिक (Publicly) करने से कतरा रहा विभाग जबकि पहले वेबसाइट (Departmental website) पर कोई भी देख सकता था पंजीयन की स्थिति

रायगढ़

Published: November 29, 2021 11:31:58 am

रायगढ़. Paddy Purchase: रायगढ़ में हर वर्ष कई उपार्जन केंद्रों में बोगस धान खरीदी होती है, इस वर्ष भी जिले के कई समितियों में किसान पंजीयन में रकबा का प्रतिशत काफी बढ़ा हुआ नजर आ रहा है। इस कारण बढ़े हुए रकबे को लेकर बोगस खरीदी होने का संदेह जताया जा रहा है।
Paddy purchase
Paddy purchase center

जिले में 1 दिसंबर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू होने जा रही है, धान खरीदी के लिए पंजीयन करीब पूरा हो गया है। इस बार धान खरीदी के लिए हुए किसान पंजीयन के आकड़ों को विभाग सार्वजनिक करने में कतरा रहा है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दर्जन भर ऐसे उपार्जन केंद्र जिले में है जहां 20-25 प्रतिशत तक रकबे में बढ़ोत्तरी हुई है जबकि गौर करने वाली बात है कि आए दिन कृषि जमीनों का डायवर्सन हो रहा है।
जिले में उद्योगों की संख्या व क्षमता में विस्तार हो रहा है जिसके कारण कृषि भूमि (Agricultural land) कम हो रही है इसके बाद भी रकबे में इतनी अधिक बढा़ेतरी संदेह को जन्म दे रही है। लैलूंगा के मूकडेगा उपार्जन केंद्र में अकेले 65 प्रतिशत के रकबे में बढ़ोत्तरी हुई है।

कई समितियों में घट गया रकबा
ऐसा नहीं है कि सभी उपार्जन केंद्रों में बोगस खरीदी (Bogus Purchase) की तैयारी है। कई ऐसी भी समिति हैं जहां रकबा कम हुआ है। अमझर में 6 प्रतिशत तो कुम्हारी में 8 और करनीपाली में 6 प्रतिशत रकबे में कमी आई है।
यह भी पढ़ें
अवैध धान लेकर घुसने वालों की अब खैर नहीं! 11 चेक पोस्ट से एमपी-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर हो रही कड़ी निगरानी


बाद में सामने आता है बोगस खरीदी
समिति में पहले तो पंजीकृत किसानों के नाम पर धान विक्रय (Paddy selling) दिखाकर राशि आहरण कर लिया जाता है, बाद में पता चलता है कि समिति में उतनी मात्रा में धान है ही नहीं।
इसके बाद से जीरो शार्टेज का खेल शुरू होता है। अनौपचारिक रूप से मिलर, समिति प्रबंधक और विभाग के अधिकारी मिलकर धान की कमी को पूरा कर बोगस खरीदी पर चादर ढंक देते हैं।

कतरा रहे विभाग के अधिकारी
पहले किसान पंजीयन से धान खरीदी (Paddy Purchase) तक की पूरी जानकारी खाद्य विभाग (Food Department) के वेबसाइट पर कोई भी आम आदमी देख सकता था, लेकिन पिछले वर्ष से इसमें अपलोड नहीं किया जा रहा है और विभाग के अधिकारी भी जानकारी देने से कतरा रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.