Video- ट्रेनों की लेटलतीफी व ठहराव को लेकर लोगों में आक्रोश, सर्वदलीय मंच ने किया प्रदर्शन, ये कहा...

लंबे समय से दक्षिण पूर्व रेलवे के बिलासपुर जोन के अंतर्गत आने वाले एक दर्जन से भी अधिक ट्रेनें जिनमें अधिकतर पैसेंजर गाडिय़ां होती है उसको निरस्त किया जाा रहा है।

By: Vasudev Yadav

Published: 03 Mar 2019, 06:12 PM IST

रायगढ़. बिलासपुर से लेकर झारसुगड़ा तक रेल मार्ग में लगातार पैसेंजर ट्रेनों से लेकर अन्य लंबी दूरी की गाडिय़ों की लेटलतीफी तथा निरस्त होनें को लेकर आज सर्वदलीय मंच ने रेलवे स्टेशन के सामने धरना प्रदर्शन करते हुए रेल प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। ट्रेनों की लेटलतीफी तथा पैसेंजर ट्रेनों के ठहराव पर एक निश्चित समय अवधि यात्रियों को बताने की मांग की। पैसेंजर ट्रेनों से लेकर अन्य लंबी दूरी की गाडिय़ों की लेटलतीफी के कारण यात्रियों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसको लेकर पूर्व में रेलवे प्रबंधन को एक ज्ञापन सौंपा गया था लेकिन संघ के पदाधिकारियों ने देखा कि सौंपे गए ज्ञापन पर किसी तरह की पहल शुरू नहीं की गई है तो रविवार को एकदिवसीय धरना देकर युवा संकल्प के कार्यकर्ताओं ने रेलवे प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया।

लंबे समय से दक्षिण पूर्व रेलवे के बिलासपुर जोन के अंतर्गत आने वाले एक दर्जन से भी अधिक ट्रेनें जिनमें अधिकतर पैसेंजर गाडिय़ां होती है उसको निरस्त किया जाा रहा है। इतना ही नही लंबी दूरी की गाडिय़ां को भी समय-समय पर पैसेंजर बनाकर एक्सप्रेस ट्रेनों का भाड़ा वसूला जा रहा है।

Read More : अभी भी जिले के 21 समितियों में धान का उठाव रिकार्ड में शेष, शार्टेज का आंकलन रूका

रेल प्रशासन के इस रवैये से परेशान इन लोगों ने मोर्चा खोलते हुए जल्द ही रेल यातायात सुधारने की मांग की ताकि रोजाना परेशान होनें वाले यात्रियों को इससे निजात मिल सके। युवा संकल्प के प्रमुख कौशल गोस्वामी ने बताया कि अधिकारियों की मनमानी के चलते बीते कई दिनों से पैसेंजर ट्रेनों को बिना जानकारी के रद्द कर दिया जाता है जिससे आम यात्री हलाकान है। जानकारी के अभाव में लगातार यात्री अपने अन्य कामों से बाहर भी नही जा पा रहे हैं ऐसे में उनकी मांग है कि रेल प्रशासन रायगढ़ व बिलासपुर के बीच कोई ट्रेन चलाकर ऐसी व्यवस्था करे जिससे यात्रियों को सुविधा मिले।

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned