डंडे से पीटकर पत्नी को उतारा मौत के घाट, उम्रकैद

पत्नी की हत्या के एक मामले में कोर्ट ने पति को सश्रम आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। जिसमें ५ हजार रुपए का अर्थदंड भी शामिल है...

By: सूरज राजपूत

Published: 17 Dec 2015, 11:31 AM IST

रायगढ़. पत्नी की हत्या के एक मामले में कोर्ट ने पति को सश्रम आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। जिसमें ५ हजार रुपए का अर्थदंड भी शामिल है।

मामला लैलूंगा के थाना क्षेत्र के ग्राम राजपुर की है। जब डंडे से पीट कर व फर्श पर पटक कर पति ने पत्नी को मौत के घाट उतार दिया।

जिला सत्र न्यायाधीश एनडी तिगाला ने हत्या के एक मामले में बुधवार को अहम फैसला सुनाया। जिसकी पैरवी शासकीय अधिवक्ता पंचानन गुप्ता ने की। मिली जानकारी के अनुसार मामला लैलूंगा थाना क्षेत्र के ग्राम राजपुर की है।

27 अप्रैल 2015 को करम सिंह मांझी का पत्नी प्रमिला मांझी के साथ किसी बात पर विवाद हुआ। बात इस कदर बिगड़ गई कि पति ने पहले डंडे से पीटा इसके बाद पत्नी को फर्श पर पटक दिया।

इससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। पत्नी को काफी देर तक अचेत पड़े रहने को देख पति को उसकी मौत होने का एहसास हुआ।

ऐसे में, पत्नी की लाश को घर में छोड़ कर फरार हो गया। परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम को भेजा। जिसमें सिर में चोट व अधिक खून बहने से मृतिका की मौत की बात सामने आई।

इससे पुलिस ने हत्या का अपराध दर्ज कर उसके पति को गिरफ्तार किया। वहीं जेल दाखिले की औपचारिकता को पूरा किया।

करीब 7 माह तक चली सुनवाई में कोर्ट ने पत्नी की हत्या के लिए पति को दोषी पाया। ऐसे में, न्यायाधीश एनडी तिगाला ने दोषी को सश्रम आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। जिसमें 5 हजार रुपए का अर्थदंड भी शामिल है।
Show More
सूरज राजपूत Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned