scriptRail roko agitation took place in Himgir station regarding stoppage of | पैसेंजर ट्रेनों के स्टापेज को लेकर हिमगिर स्टेशन में हुआ रेल रोको आंदोलन | Patrika News

पैसेंजर ट्रेनों के स्टापेज को लेकर हिमगिर स्टेशन में हुआ रेल रोको आंदोलन

इस रुट के करीब आधा दर्जन ट्रेने अलग-अलग स्टेशन में खड़ी रही
भरी दोपहरी में यात्री होते रहे हलाकान
चार घंटा बाद ट्रेनों का परिचालन हुआ शुरू

रायगढ़

Published: June 12, 2022 07:32:31 pm

रायगढ़. पैसेंजर ट्रेनों को चलाने व स्टापेज को लेकर रविवार को सुबह करीब ८ बजे हिमगिर रेलवे स्टेशन में स्थानीय लोगों ने पटरी पर बैठकर रेल रोको आंदोलन शुरू कर दिया, जिससे करीब आधा दर्जन से अधिक यात्री टे्रेनों को अलग-अलग स्टेशनों में खड़ा किया गया था, जिससे यात्रा करने वाले यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं आंदोलन करीब 4 घंटे तक चला, इस दौरान अधिकारियों से आश्वासन मिलने के बाद ट्रेनों का परिचालन शुरू हो सका।
गौरतलब हो कि कोरोना काल के बाद यात्री ट्रेनों का परिचालन तो शुरू हुआ, लेकिन कुछ पैसेंजर ट्रेनों का स्टापेज खत्म कर दिया गया तो कुछ पैसेंजर ट्रेने विगत दो माह से रद्द चल रही है, जिससे हिमगिर के यात्रियों को इन दिनों एक भी पैसेजर ट्रेन नहीं मिल रहा है, जिसको लेकर वहां के रहवासियों में काफी आक्रोश पनप रहा था, इस दौरान कई बार पैसेंजर ट्रेनों को चलाने व जो चल रही है उसका स्टापेज दिए जाने की मांग कर रहे थे, लेकिन इनकी मांगों को रेलवे द्वारा दरकिनार कर दिया जा रहा था, जिसको लेकर रविवार को स्थानीय लेागों ने सुबह करीब ८ बजे पटरी पर बैठकर आंदोलन शुरू कर दिया, इस दौरान इनका कहना था कि जब तक उन्हें पैसेंजर ट्रेनों के स्टापेज व चलाने का आश्वासन नहीं मिलेगा, तब तक आंदोलन चलता रहेगा। वहीं आंदोलन को समाप्त करने के लिए ब्रजराजनगर से रेलवे अधिकारी एआरएम पहुंचे थे, लेकिन आंदोलनकारी इनकी बातों को भी दरकिनार करते हुए उनका कहना था कि जब तक उन्हें पैसेंजर ट्रेनों का लाभ नहीं मिलेगा आंदोलन चलता रहेगा। ऐसे में अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि फिलहाल दो पैसेंजर ट्रेने रद्द चल रही है, एक पैसेंजर ट्रेन चल रही है जिसके स्टापेज के लिए उच्चाधिकारियों से बात कर जल्द रोकवाया जाएगा, तब जाकर दोपहर करीब १२.३० बजे आंदोलन समाप्त हुआ, जिससे अलग-अलग स्टेशनों में खड़ी यात्री ट्रेनों को रवाना किया गया।
लंबे समय से परेशान हैं यहां के रहवासी
इस संबंध में प्रदर्शनकारियों का कहना था कि कोरोना काल समाप्त होने के बाद एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन तो शुरू हुआ, लेकिन पैसेंजर ट्रेने बंद रही है, वहीं जब पैसेंजर ट्रेनों को स्पेशल के रूप में चलाया गया तब टाटा-इतवारी का स्टापेज बंद हो गया, वहीं जेडी पैसेंजर व टिटलागढ़ पैसेंजर हमेशा रद्द रहती है, जिससे इनको वर्तमान में एक भी पैसेंजर ट्रेनों का लाभ नहीं मिल रहा है, जिससे परेशानी का सामना करना पड़ता है।
तीन पैसेंजर ट्रेनों के स्टापेज की मांग
आंदोलनकारियों का कहना था कि झारसुगुड़ा-गोंदिया (जेडी पैसेंजर), टिटलागढ़ पैसेंजर विगत दो माह से रद्द चल रही है, वहीं टाटा-इतवारी कोरोनाकाल के बाद से एक्सप्रेस बनकर चल रही है, जिससे उसका स्टापेज नहीं है, ऐसे में इन तीनों पैसेंजर ट्रेनों को चलाते हुए हिमगिर में स्टापेज दिया जाए, ताकि स्थानीय लोगों को आने-जाने में सहुलियत हो। वहीं इनके आंदोलन को देखते हुए रेलवे अधिकारियों ने आश्वासन दिया है कि बहुत जल्द टाटा-इतवारी को स्टापेज दिया जाएगा, साथ ही जेडी पैसेंजर व टिटलागढ़ का भी परिचालन शुरू कराया जाएगा, साथ ही अगर टाटा-इतवारी नहीं रुकती है तो अमदाबाद को रोका जाएगा, तब जाकर दोपहर १२.३० बजे आंदोलन समाप्त हो सका।
अलग-अलग स्टेशनों में खड़ी ट्रेने
हिमगिर स्टेशन में रेल रोको आंदोलन शुरू होने की सूचना मिलते ही यात्रियों को ज्यादा दिक्कत न हो इसके लिए रेलवे ने अलग-अलग स्टेशनों में यात्री टेनों को खड़ी कर दिया था। जिससे डाउन लाइन में बिलासपुर-टिटलागढ़ पैसेंजर रायगढ़ में ११.३० से १२.४३ बजे तक खड़ी रही। जबलपुर-विशाखापटïï्नम स्पेशल १२.३० से ०१.०५ तक रायगढ़ में खड़ी रही, सांई शिरडी-हावड़ा एक्सप्रेस को ११.२८ से १२.४३ तक खरसिया में खड़ा किया गया था। वहीं ऋषिकेश-पुरी उत्कल एक्सप्रेस ११.४५ से १२.४५ तक चांपा में खड़ी रही। दुर्ग-राजेंद्र नगर साउथ बिहार एक्सप्रेस ११.४० से १२.५५ बजे तक सक्ती में खड़ी रही। पुणे-हावड़ा दुरंतो एक्सप्रेस ११.४० से १२.४६ बजे तक बाराद्वार में खड़ा किया गया था, साथ ही इतवारी-टाटानगर एक्सप्रेस को बिलासपुर स्टेशन में ११ से १२.५५ बजे तक खड़ा किया गया था।
अप लाइन की ट्रेने भी हुई प्रभावित
हिमगिर स्टेशन में आंदोलन शुरू हुआ उस दौरान अहमदाबाद एक्सप्रेस और आजाद हिंद एक्सप्रेस आ गई, जिससे अधिकारियों द्वारा समझाईश देने पर दोनों गाडिय़ों को छोड़ दिया, लेकिन कुछ देर बाद पूरी-बलसाड़ आई तो उसे हिमगिर में चार घंटे तक रोक दिया। वहीं शालीमार-एलटीटी एक्सप्रेस को बेलपहाड़ में ९.४० से १२.३५ बजे तक तथा शालीमार-पोरबंदर एक्सप्रेस को झारसुगुड़ा में १०.५५ से १३.०३ तक खड़ा किया गया था। वहीं आदोलन समाप्त होने के बाद सभी गाडिय़ों को आगे के लिए रवाना किया गया।
raigarh
पैसेंजर ट्रेनों के स्टापेज को लेकर हिमगिर स्टेशन में हुआ रेल रोको आंदोलन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहारः कांग्रेस ने बुलाई विधायकों की बैठक, नीतीश कुमार के साथ जाने पर बन सकती है सहमति!Maharashtra Cabinet Expansion: कल 15 मंत्री लेंगे शपथ, देवेंद्र फडणवीस को मिलेगा गृह विभाग? जानें शिंदे कैबिनेट के संभावित मंत्रियों के नाम'इनकी पुरानी आदत है पूरे सिस्टम पर हमला करने की', कपिल सिब्बल के बयान पर बोले कानून मंत्री किरेण रिजिजूअरविंद केजरीवाल ने कहा- देश की राजनीति में परिवारवाद और दोस्तवाद खत्म कर भारतवाद लाएंगेAmit Shah Visit To Odisha: अमित शाह बोले- ओडिशा में अच्छे दिन अनुभव कर रहे लोग, सीएम नवीन पटनायक की तारीफ भी की'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार', बिहार में मचे सियासी घमासान पर बोले RJD नेता शिवानंद तिवारीगालीबाज भाजपा नेता पर रखा गया 25 हजार का इनाम, 40 टीमें तलाश में जुटीTET घोटाले में हुआ बड़ा खुलासा, शिंदे गुट के विधायक अब्दुल सत्तार की बेटियों के नाम आए सामने, शिवसेना ने बोला हमला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.