दुष्कर्म के बाद आपत्तिजनक वीडियो के साथ करने लगा ब्लैकमेलिंग, फिर किया वायरल, कोर्ट ने दी ये सजा

दुष्कर्म के बाद आपत्तिजनक वीडियो के साथ करने लगा ब्लैकमेलिंग, फिर किया वायरल, कोर्ट ने दी ये सजा

Shiv Singh | Publish: Mar, 14 2018 08:24:33 PM (IST) Raigarh, Chhattisgarh, India

रायगढ़ के प्रभारी अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश (फास्ट ट्रैक कोर्ट) सरोजनंद दास ने दुष्कर्म व आपत्तिजनक वीडियो वायरल करने के आरोप में सुनाया फैसला

रायगढ़. युवती से दुष्कर्म के बाद एक युवक ने उसकी आपत्तिजनक वीडियो के साथ ब्लैकमेलिंग करने लगा इसके बाद उस वीडियो को वायरल कर दिया। कोर्ट ने दोषी की इस करतूत पर उसे 7 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। जिसमें 12 हजार रुपए का अर्थदंड भी शामिल है।

रायगढ़ के प्रभारी अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश (फास्ट ट्रैक कोर्ट) सरोजनंद दास ने दुष्कर्म व आपत्तिजनक वीडियो वायरल करने के आरोप में मंगलवार को एक अहम फैसला सुनाया। जिसकी पैरवी शासकीय अधिवक्ता राजीव बेरीवाल ने की।मिली जानकारी के अनुसार मामला चक्रधर नगर थाना क्षेत्र का है।

Read more :BREAKING : कभी देखा है 100 की रफ्तार में सड़क पर दौड़ती बर्निंग ट्रक, खड़े हो जाएंगे रोंगटे, देखिए वीडियो

इस थाना क्षेत्र के एक गांव में 21 वर्षीय प्रभुदास लकड़ा पिता नवीन दास, किराए पर रहता था। जो जशपुर के तपकरा थाना क्षेत्र के हल्दीमुड़ा गांव का रहने वाला है। उसने एक 19 वर्षीय युवती को घर में अकेले देख उसके साथ दुष्कर्म किया। वहीं उसकी आपत्तिजनक वीडियो बना कर उसे ब्लैकमेल करने लगा। आरोपी, युवती से रुपए की मांग करने लगा तो कभी मोबाइल में रिचार्ज करवाने लगा। इससे युवती पर आर्थिक बोझ बढऩे लगा। इससे युवती परेशान होकर आरोपी की बात मानने से इंकार कर दिया। उसके बाद आरोपी उसकी आपत्तिजनक वीडियो को वायरल कर दिया। आरोपी द्वारा उक्त वीडियो को युवती के रिश्तेदार व गांव के लड़कों को भी भेज दिया।

परिजनों के पैरो तले खिसक गई थी जमीन
जब इस बात की जानकारी युवती व उसके परिजनों को मिली तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। उसके बाद पीडि़त परिवार ने अरोपी युवक के खिलाफ चक्रधर नगर थाने में लिखित शिकायत की। जिसमें आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म, धमकी, आईटी एक्ट व अन्य धाराओं के तहत जुर्म दर्ज किया गया। कोर्ट ने करीब ढाई साल की सुनवाई के बाद आरोपी युवक को दोषी मानते हुए 7 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। जिसमें 12 हजार रुपए भी शामिल है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned