कोचिंग सेंटर की आड़ में सेक्स रैकेट चलाता था यह अफसर, पुलिस ने रंगे हाथ पकड़ा

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में क्राइम ब्रांच की टीम ने एेसे सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है जोकि एक कोचिंग की आड़ में चल रहा था।

By: Ashish Gupta

Updated: 11 Sep 2017, 11:38 PM IST

रायगढ़. छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में क्राइम ब्रांच की टीम ने एेसे सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है जोकि एक कोचिंग की आड़ में चल रहा था। क्राइम ब्रांच टीम ने मौके पर दबिश देकर एक युवक, एक युवती और दो महिलाओं को गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच की जांच के दौरान एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है कि इस सेक्स रैकेट को चलाने वाला कृषि विभाग में आरईओ के पद पर पदस्थ है। जोकि कोचिंग की आड़ में जिस्मफरोशी का धंधा चला रहा था।

दरअसल जिस्फरोशी का यह धंधा रायगढ़ के जूट मिल चौकी क्षेत्र में सावित्री नगर कॉलोनी में कोचिंग सेंटर की आड़ चल रहा था। इस सेक्स रैकेट का खुलासा तब हुआ जब कोचिंग में कुछ संदिग्ध लोगों की गतिविधियां नजर आई तो कई बार इलाके के लोगों ने पुलिस को कोचिंग के नाम पर कुछ और ही धंधा संचालित होने की जानकारी दी।

पुलिस ने संदेह के आधार पर कोचिंग सेंटर में जब दबिश दी तो सामने जो नजारा देखा उसे वे हैरान रह गए। कोचिंग सेंटर में एक युवक, एक युवती और दो महिलाएं आपत्तिजनक स्थिति में पाए गए। पुलिस ने तुरंत सभी को हिरासत में ले लिया। कोचिंग की तलाशी में भारी मात्रा में कंडोम और गर्भ निरोधक गोलियां बरामद की है।

पुलिस की जांच में पता चला है कि करीब महीने भर पहले शुरू कोचिंग सेंटर में सुबह 8 से दोपहर 1 बजे तक पीईटी की तैयारी के लिए क्लासेज चलती थी। इसके बाद जिस्फरोशी के संचालक की अय्याशी शुरू हो जाती थी। पुलिस ने जिस्फरोशी के संचालक से पूछताछ की तो उसने राजनीतिक पकड़ धौंस दिखाना शुरू कर दिया।

जिस्फरोशी के इस धंधे में लिप्त सभी आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने पीटा एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने यह आशंका भी जताई है कि सेक्स रैकेट का ये नेटवर्क कई जिलों और पड़ोसी राज्यों में फैला है। इसमें हाई प्रोफाइल लोगों का हाथ भी बताया जा रहा है। फिलहाल मामले की तहकीकात जारी है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned