अंधविश्वास की इतनी गहरी पैठ स्वास्थ्य ढांचे की विफलता है

Health: स्वास्थ्य योजनाएं लोगों के मन में वो भरोसा नहीं जगा सकी, जो अब तक होना चाहिए था। यहीं वजह है कि अब तक टोटकों से मोह खत्म नहीं हो सका है।

By: Vasudev Yadav

Published: 19 Mar 2020, 05:17 PM IST

चूड़ामणि साहू
रायगढ़.प्रदेश में सत्ता बदलने के बाद सबसे ज्यादा फोकस स्वास्थ्य सुविधा पर रखने की बात कही गई। पर ये यूनिवर्सल दावे प्रदेश के दूरस्थ अंचलों तक अब तक नहीं पहुंच पा रहे हैं या इन्हें पहुंचाने की कोशिश नहीं हो रही है। आलम यह है कि स्वास्थ्य योजनाएं लोगों के मन में वो भरोसा नहीं जगा सकी हैं, जो अब तक होना चाहिए था। यहीं कारण है कि अब तक टोटकों से मोह खत्म नहीं हो सका है।

हैरानी की बात यह भी है कि हम स्वास्थ्य को लेकर दावे तो हजारों कर रहे हैं, पर टोटकों का इलाज हमारी किसी स्वास्थ्य योजना में नहीं है। इस बात की बानगी जिले की इस घटना से मिलती है। जिला मुख्यालय के करीब 35 किलोमीटर दूर बड़े डूमरपाली में बीते एक मार्च को दो से तीन लोगों को छोटी माता यानी चिकन पॉक्स हुआ।

स्वास्थ्य विभाग को इसकी जानकारी एक दिन के बाद लगी और महकमा शिविर लगाने गांव पहुंचा। लेकिन ग्रामीणों ने अंधविश्वास की वजह से शिविर में उपचार कराने से ही इंकार कर दिया। महकमा लौट आया। किसी भी अधिकारी ने समझाने की कोशिश नहीं की। इसे ग्रामीणों की इच्छा पर छोड़ दिया। एक तरफ जहां कोरोना जैसे महाघातक विषाणु से दुनियां जूझ रही है, वहां ऐसा अंधविश्वास मारक है। बात सत्तर के दशक की होती तो मान लिया जाता, लेकिन आज के इस चकाचौंध प्रचार माध्यम के युग में भी ग्रामीणों तक मेडिकल का न पहुंचना कई प्रश्न खड़े करता है।

हमारा स्वास्थ्य का पूरा ढांचा एक खास तरह के आइसोलेट कॉम्प्लेक्स का शिकार है। डॉक्टर गांवों में नहीं जाएंगे, स्टॉफ बिना किसी लाभ के एक टेबलेट न देगा, विभिन्न स्वास्थ्यगत अभियान कागजों में होंगे, स्टॉफ का टोटा रहेगा आदि-आदि आम बातें हैं। स्वास्थ्य के पूरे ढांचे में सेवा का भाव सकारात्मकता के साथ जोडऩा चाहिए। यह आम नौकरियों की तरह नहीं जहां परिवार के लालन-पालन के लिए धनार्जन हो। अंधविश्वास की इतनी गहरी पैठ सिवाय हमारे स्वास्थ्य के ढांचे की विफलता के और कुछ भी नहीं।

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned