हादसा देख लोगों के खड़े हो गए रोंगटे, नहीं आई किसी को खरोच

Rajkumar Shah

Publish: Oct, 13 2017 07:15:11 PM (IST)

Raigarh, Chhattisgarh, India
हादसा देख लोगों के खड़े हो गए रोंगटे, नहीं आई किसी को खरोच

गुरुवार की देर रात्रि पॉलीटेक्निक कॉलेज के सामने हुए हादसे ने देखने वालों के रौंगटे खड़े कर दिए।

रायगढ़. गुरुवार की देर रात्रि पॉलीटेक्निक कॉलेज के सामने हुए हादसे ने देखने वालों के रौंगटे खड़े कर दिए। इस घटना में सबसे चौकाने वाला वाकया यह था कि कार में सावार युवकों को मामूली खरोच तक नहीं आई। घटना की सूचना पर पुलिस घटनाकारित कार को थाने ले आई है। घटना चक्रधर नगर थाना क्षेत्र की है।


पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ओमविहार कॉलोनी कोतरारोड निवासी आयुष अग्रवाल पिता सजन अग्रवाल 19 वर्ष पुणे में रहकर पढ़ाई करता है। दो दिन पहले वह दीपावली की छुट्टी में रायगढ़ अपने घर आया हुआ है। मंगलवार की रात्रि आयुष ने अपने ताऊ के लड़के संदीप से उसके स्पीफ्ट वीडीआई कार क्रमांक सीजी04एलई3253 को घुमने के लिए मांगा। ऐसे में संदीप ने आयुष को कार दे दिया। रात्रि में उक्त कार में सवार होकर आयुष अग्रवाल, तुषार अग्रवाल व पिंटू महंत जमुना इन चौक से कमला नेहरू उद्यान की तरफ जा रहे थे। पुलिस को अपने बयान में आयुष ने बताया कि इस दौरान कार तुषार चला रहा था।

वहीं आयुष आगे में व पिंटू पीछे बैठा था। जैसे ही वे पॉलीटेक्निक कॉलेज के सामने पहुंचे तो इनकी कार अनियंत्रित हो गई और स्पीड करीब 130-140 होने की वजह से पलटी खाते हुए सीधे पॉलीटेक्निक के सामने में बने कलाकृतियों के रेलिंग को तोड़ते हुए उसमें चढ़ गई।

रात्रि में उस मार्ग से गुजर रहे लोगों के इस दुर्घटना को देख रोंगटे खड़े हो गए। क्योंकि कार के बुरी तरह परखच्चे उड़ गए थे। जबकि कार में सवार युवकों को खरोच तक नहीं आई है। हालांकि पुलिस यह कह रही है कि जिस वक्त यह घटना घटित हुई उस वक्त एक व्यक्ति सड़क पर था, जिसके कमर में चोट आई है। उक्त व्यक्ति को एमएलसी के लिए भिजवाया गया है।


रायपुर की है गाड़ी- पुलिस ने बताया कि घटनाकारित कार क्रमांक सीजी04एलई3253 रायपुर की गाड़ी है। पहले तो घटना के बाद यह आशंका व्यक्त की जा रही थी कि कार में सवार लोग रायपुर के हो सकते हैं। बाद में इस बात का पता चला कि यह गाड़ी रायपुर से खरीदी गई है जोकि कोतरारोड की है।


किसी को मामूली खरोच तक नहीं- इतना खतरनाक एक्सीडेंट हुआ है, लेकिन चौकाने वाली बात यह है कि किसी को मामूली खरोच तक नहीं आई है। हालांकि घटना में शामिल एक युवक मेट्रो अस्पताल में है, जिसका बयान दर्ज किया गया है। मामले में अब तक किसी प्रकार का रिपोर्ट दर्ज नहीं हुआ है।
-अमित पाटले, चक्रधर नगर थाना प्रभारी

गुरुवार की देर रात्रि पॉलीटेक्निक कॉलेज के सामने हुए हादसे ने देखने वालों के रौंगटे खड़े कर दिए।गुरुवार की देर रात्रि पॉलीटेक्निक कॉलेज के सामने हुए हादसे
Ad Block is Banned