राशन कार्ड पर कैबिनेट में निर्णय के बाद असमंजस में है खाद्य विभाग व लोग

राशन कार्ड पर कैबिनेट में निर्णय के बाद असमंजस में है खाद्य विभाग व लोग

Vasudev Yadav | Publish: Jun, 19 2019 01:15:07 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

नए राशन कार्ड(New ration card) में बार कोड पुराने में नहीं है बार कोड, बिना नवीनीकरण के नहीं है वितरण संभव

रायगढ़. हर वर्ग के लिए अलग रंग का राशन कार्ड(Ration card) नहीं बल्कि अब दो ही राशन कार्ड होंगे। एक बीपीएल(BPL) व दूसरा एपीएल। सारे राशन कार्डों का फिर से नवीनीकरण किया जाएगा। साथ ही अब एपीएल व बीपीएल दोनों ही कार्डधारियों को राशन की पात्रता होगी। इस निर्णय को लेकर लोग असमंजस में है कि राशन कार्ड में तो टेबलेट सिस्टम चल रहा है फिर बिना इंट्री के राशन कैसे मिलेगा।
पिछले दिनों कैबिनेट में घोषणा हुई है कि अब दो ही प्रकार के राशन कार्ड होंगे। इसमें एपीएल व बीपीएल और दोनों को ही खाद्यान्न की पात्रता होगी। एपीएल कार्डधारियों को जहां १० रुपए प्रति किलो के हिसाब से चावल दिया जाएगा तो वहीं बीपीएल को १ रुपए प्रति किलो के हिसाब से चावल दिया जाना है। वहीं बीपीएल कार्ड के स्लैब में भी बदलाव किया गया है। प्रति सदस्य १० किलो किया गया है। वहीं ४-५ सदस्यों तक वाले परिवार को ३५ किलो और इससे अधिक होने पर प्रति सदस्य ७ किलो के हिसाब से अतिरिक्त चावल दिया जाएगा।
चूंकि एपीएल कार्ड को पूर्व में निरस्त कर दिया गया है और वर्तमान में बीपीएल, अंत्योदय, व अन्य कई प्रकार के राशन कार्ड चल रहे हैं। उक्त निर्णय होने पर सभी एपीएल राशन कार्ड फिर से जीवित हो जाएंगे, लेकिन अधिकारियों व लोगों को यह समझ में नहीं आ रहा है कि वर्तमान में राशन दुकान टेबलेट सिस्टम से चल रहा है और टेबलेट में एपीएल राशन कार्ड की इंट्री नहीं है। ऐसे में वर्तमान परिस्थिति में इनको खाद्यान्न कैसे वितरण किया जाएगा। यह लोगों के लिए असमंजस है।
हालांकि कैबिनेट में हुई घोषणा के बाद अभी तक इसको लेकर कोई निर्देश नहीं आया है। खाद्य विभाग के अधिकारी भी निर्देश मिलने का इंतजार कर रहे हैं ताकि उसी हिसाब से आगे का कार्य किया जा सके।

सभी राशन कार्ड का होगा नवीनीकरण
हालांकि अब तक मिली जानकारी के अनुसार बीपीएल व एपीएल राशन कार्ड का नवीनीकरण होगा वहीं नए राशन कार्ड बनाने का काम भी होगा। पुराने एपीएल राशन कार्ड का नवीनीकरण होने के बाद इसकी इंट्री होने में काफी समय लगेगा इसको लेकर सवाल उठ रहा है।

जगह को लेकर आएगी भंडारण की समस्या
वर्तमान में देखा जाए तो जिले में ३ लाख ६४ हजार बीपीएल राशन कार्डधारी हैं। अगर एपीएल भी चालू हो गया तो कम से कम १ से डेढ़ लाख तक राशन कार्ड और बढ़ जाएंगे ऐसी स्थिति में वितरण के लिए चावल के भंडारण की भी समस्या आएगी। जिसको लेकर संचालक भी परेशान हैं।

कैबिनेट में घोषणा होने की खबर तो है, लेकिन अभी तक हमारे पास लिखित में ऐसा कुछ नहीं आया है। लिखित में निर्देश मिलने के बाद ही कुछ बता पाएंगे।
जीपी राठिया, जिला खाद्य अधिकारी, रायगढ़

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned