आठ साल बाद पुलिस की पकड़ में आया ये स्थाई वारंटी, नाम बदलकर रह रहा था इस गांव में, पढि़ए खबर...

आठ साल बाद पुलिस की पकड़ में आया ये स्थाई वारंटी, नाम बदलकर रह रहा था इस गांव में, पढि़ए खबर...

Shiv Singh | Publish: Sep, 11 2018 05:32:42 PM (IST) Raigarh, Chhattisgarh, India

-जमानत पर रिहा हो गया था बिट्टू , इसके बाद से वह फरार हो गया था, साथ ही नहीं जा रहा था पेशी में भी

रायगढ. अपने दो साथियों के साथ मिलकर घर घुसकर चोरी की घटना को अंजाम देने तथा जमानत से रिहा होने के बाद 08 साल से फरार चल रहे स्थायी वारंटी को पुलिस ने बाराद्वार से पकड़ा है। वहीं आरोपी को थाने लाकर उसे रिमांड में भेजने की प्रक्रिया चल रही है। घटना खरसिया थाना क्षेत्र की है।

ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले ही एसपी ने जिले के सभी थानेदारों की कंट्रोल रूम में बैठक ली थी। जहां पेंडिंग मामले खासकर स्थायी वारंटी, 363, 366 मामले को जल्द निपटाने का निर्देश दिया था। इसके बाद से ही सभी थानों में पेंडिंग मामले को निपटाने प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसी क्रम में खरसिया पुलिस ने आठ साल से फरार चल रहे स्थायी वारंटी को पकड़ा है।

Read More : Video Gallery : बारिश में सड़क क्षतिग्रस्त, अब क्षेत्रवासी इस तरह कर रहे सड़क का निर्माण

पुलिस ने बताया कि आरोपी बिट्टू उर्फ जमुना यादव (19) वर्ष साकिन झाराडीह हाल मुकाम रेलवे बंगलापारा रायगढ़ करीब 08 साल पहले अपने दो साथियों के साथ मिलकर झाराडीह स्थित एक घर में घुसकर चोरी की घटना को अंजाम दिया था। जहां करीब 80 हजार रुपए की चोरी हुई थी। इसके बाद आरोपियों की गिरफ्तारी भी हुई थी। जहां से बिट्टू जमानत पर रिहा हो गया था। इसके बाद से वह फरार हो गया था। साथ ही पेशी में भी नहीं जा रहा था। ऐसे में न्यायालय से उसे स्थायी वारंटी घोषित कर दिया। इसके बाद पुलिस करीब आठ साल से उसकी तलाश कर रही थी।

 

नाम बदल कर छिपा था आरोपी
पुलिस ने बताया कि आरोपी जांजगीर जिले के बाराद्वार में नाम बदलकर रह रहा था। इसकी सूचना पुलिस को मिली तो 11 सितंबर को खरसिया स्टाफ से प्रधान आरक्षक लक्ष्मी राठौर, आरक्षक राजेश राठौर व आरक्षक योगेश कुर्रे की टीम बाराद्वार पहुंची और आरोपी को गिरफ्तार कर थाने ले आई, वहीं आरोपी को रिमांड में भेजने की तैयारी चल रही है।

Ad Block is Banned