10वीं-12वीं के पुनर्मूल्याकंन और पुनर्गणना के रिजल्ट 25 जून तक

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित दसवीं-बारहवीं में पूरक आने वालों छात्रों के आवेदन करने की अंतिम तारीख 7 जून को खत्म हो गई

By: चंदू निर्मलकर

Published: 07 Jun 2018, 08:31 PM IST

रायपुर. माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित दसवीं-बारहवीं में पूरक आने वालों छात्रों के आवेदन करने की अंतिम तारीख 7 जून को खत्म हो गई। मंडल अधिकारियों के मुताबिक पुनर्मूल्यांकन व पुनर्गणना के नतीजे 25 जून तक जारी करने का लक्ष्य है। नतीजे आने के बाद पुनर्मूल्यांकन व पुनर्गणना के लिए 900 से अधिक विद्यार्थियों ने आवेदन दिया है। पिछले सत्र में लगभग 700 छात्रों ने आवेदन दिया था।

नए नियम लागू
नए प्रावधान के तहत 20 फ ीसदी से कम अंक और 80 से अधिक अंक आने वाली कॉपियों का पुनर्मूल्यांकन नहीं होगा। इस नियम के लागू होने से आवेदन कम आने की संभावना थी, जो कि गलत साबित हुई।

पूरक व अवसर परीक्षा 7 जुलाई से
अनुत्तीर्ण विद्यार्थी क्रेडिट योजना के तहत परीक्षा देंगे। दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षा में फेल हुए विद्यार्थियों को पूरक के अलावा अवसर परीक्षा का मौका 7 जुलाई से मिलेगा। पूरक और अवसर परीक्षा एक साथ ही होगी।

हायर सेकेण्डरी की परीक्षा
7 जुलाई- विशिष्ट हिन्दी, अंग्रेजी, मराठी उर्दू
9 जुलाई- पर्यावरण
10 जुलाई- कला एवं वाणिज्य
11 जुलाई- वाणिज्यिक गणित
12 जुलाई- अर्थशास्त्र, जीव विज्ञान
13 जुलाई- भूगोल
16 जुलाई- इतिहास,भौतिक शास्त्र
18 जुलाई- राजनीति विज्ञान, रसायन शास्त्र
20 जुलाई- द्वितीय भाषा सामान्य हिंदी, अंगे्रजी, संस्कृ त, मराठी, उर्दू, पंजाबी, सिंधी, बंगाली, उडिया
21 जुलाई- भारतीय संगीत, ड्राइंग एंड डिजाइनिंग, डांसिंग, स्टेनो टायपिंग, कृ षि, समाज शास्त्र, मनोविज्ञान, होम साइंस एनाटामी फिजियोलॉजी
23 जुलाई- गणित
24 जुलाई- संस्कृत, संस्कृत विशिष्ट(प्रथम भाषा)
24 जुलाई- रिटेल मार्केटिंग मैनेजमेंट, इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, आटोमोबाइल सर्विस टेक्निशियन

हाई स्कूल परीक्षा
दिनांक विषय
7 जुलाई- पर्यावरण
9 जुलाई- द्वितीय भाषा व तृतीय भाषा सामान्य हिन्दी
11 जुलाई - विशिष्ट हिन्दी, अंगे्रजी, मराठी, उर्दू
13 जुलाई- सामाजिक विज्ञान
16 जुलाई- तृतीय भाषा संस्कृत, मराठी,बंगाली, गुजराती, पंजाबी,उर्दू, उडिया
18 जुलाई- द्वितीय भाषा व तृतीय भाषा सामान्य अंग्रेजी
20 जुलाई- विज्ञान
23 जुलाई- गणित

पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष पुनर्मूल्यांकन व पुनर्गणना के आवेदन कम आए हैं। पूरक व अवसर परीक्षा विद्यार्थियों की सुविधा के लिए है, ताकि उनका साल बर्बाद न हो।
संजय शर्मा, उपसचिव, माध्यमिक शिक्षा मंडल

चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned