जरूरी खबर: दीवाली से पहले ये 14 ट्रेनें हुई रद्द, इन ट्रेनों का बदला रूट

जरूरी खबर: दीवाली से पहले ये 14 ट्रेनें हुई रद्द, इन ट्रेनों का बदला रूट
दीवाली से पहले ये 14 ट्रेनें हुई रद्द, इन ट्रेनों का बदला रूट

Ashish Gupta | Updated: 12 Oct 2019, 08:31:22 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

अगर दीवाली मनाने घर जाने की सोच रहे हैं तो यह खबर आपके लिए है। दरअसल, रायपुर रेल मंडल में मेगा ब्लॉक की वजह से ट्रेनों का आवागमन पूरी तरह से प्रभावित होगा।

रायपुर. अगर दीवाली मनाने घर जाने की सोच रहे हैं तो यह खबर आपके लिए है। दरअसल, रायपुर रेल मंडल में मेगा ब्लॉक की वजह से ट्रेनों का आवागमन पूरी तरह से प्रभावित होगा। यह मेगा ब्लॉक रायपुर के निकट हथबंद स्टेशन में मेगा ब्लॉक में एक सप्ताह तक चलेगा।

13 से 20 अक्टूबर तक रायपुर से बिलासपुर के बीच यात्रियों का सफर मुसीबत भरा होगा। इस दौरान 14 ट्रेनें कैंसिल रहेंगी। दुर्ग से चलने वाली साउथ बिहार और सारनाथ जैसी ट्रेन में सफर करने के लिए यात्रियों को बिलासपुर स्टेशन पहुंचना होगा। जबकि बिलासपुर के यात्रियों को हापा एक्सप्रेस में सफर करने के लिए रायपुर स्टेशन आना होगा। वहीं रायपुर से चलने वाली एक मात्र गरीब रथ और अम्बिकापुर एक्सप्रेस में यदि सफर करना है तो उसलापुर स्टेशन में ये ट्रेनें मिलेगी।

14 ट्रेनें रहेंगी कैंसिल
हथबंद स्टेशन में मेगा ब्लाक रविवार से लागू होने जा रहा है। इस स्टेशन में रेलवे प्रशासन लूप लांग लाइन और इलेक्ट्रिफिकेशन का कार्य कराने जा रहा है। इस वजह से 14 ट्रेनें कैंसिल कर दी गई, जिनमें सबसे अधिक लोकल गाडिय़ां हैं।

ऐसी स्थिति में पहले से ही फुल चल रही एक्सप्रेस ही रायपुर से बिलासपुर और बिलासपुर से रायपुर के यात्रियों के लिए सहारा बनेगी। क्योंकि रेलवे ने छत्तीसगढ़, गोंडवाना, लिंक एक्सप्रेस, गेवरारोड-इतवारी एक्सप्रेस को पैसेंजर बनाकर चलाने का निर्णय लिया है।

इन ट्रेन से मिलेगी साउथ बिहार और गरीब रथ
रेल परिचालन के अनुसार दुर्ग से चलने वाली साउथ बिहार एक्सप्रेस एक सप्ताह तक बिलासपुर से चलेगी। रायपुर सहित आसपास के क्षेत्रों के यात्रियों को इस ट्रेन को पकडऩे के लिए सुबह 7.30 बजे लिंक एक्सप्रेस से बिलासपुर जाना पड़ेगा, तब जाकर साउथ बिहार एक्सप्रेस मिलेगी।

इसी तरफ रायपुर से चलने वाली गरीब रथ उसलापुर स्टेशन से चलेगी। यह ट्रेन तब मिल पाएगी जब रायपुर-बिलासपुर लोकल ट्रेन से पहले बिलासपुर फिर वहां से उसलापुर स्टेशन के लिए सफर करना होगा। जबकि सारनाथ एक्सप्रेस के लिए अमरकंटक या नवतनवा एक्सप्रेस ही कनेक्टिविटी वाली ट्रेन यात्रियों का सहारा बनेगी।

रेलवे सीनियर पब्लिसिटी इंस्पेक्टर शिव प्रसाद पंवार ने बताया कि रेल विकास के कार्यो में रेलवे प्रशासन यात्रियों से सहयोग का अपेक्षा करता है। एक सप्ताह तक लोगों को दिक्कतों का सामना करना होगा। इसके बाद हथबंद स्टेशन में तेजी से गाडिय़ों का परिचालन होने लगेगा।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned