कोरोना अपडेट: प्रदेश में 1965 नए मरीज मिले, 86.6 प्रतिशत रिकवरी रेट

बुधवार को 1965 लोगों में वायरस की पहचान हुई, जबकि 2011 मरीजों ने कोरोना को मात दी। 5 मरीजों ने इलाज के दौरान दमतोड़ दिया। मृतकों की संख्या 1886 जा पहुंची है। मौत के बढ़ते आंकड़ों पर अंकुश नहीं लग रहा, हालांकि अधिकांश मौतें बैक डेट (पिछले दिनों/पिछले महीनों) की होती हैं जो मौजूदा दिन में जोड़ दी जाती हैं।

By: Karunakant Chaubey

Published: 28 Oct 2020, 10:51 PM IST

रायपुर. प्रदेश में कोरोना संक्रमण के फैलाव में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। मगर, अभी भी 2000 से अधिक मरीज रिपोर्ट हो ही रहे हैं। लेकिन राहत इतनी है कि अक्टूबर के 28 दिन में एक भी दिन ३ हजार से अधिक मरीज रिपोर्ट नहीं हुए। अगस्त-सितंबर की तुलना में मरीज जल्दी ठीक हो रहे हैं क्योंकि नए मरीजों में वायरस लोड कम पाया जा रहा है।

बुधवार को 1965 लोगों में वायरस की पहचान हुई, जबकि 2011 मरीजों ने कोरोना को मात दी। 5 मरीजों ने इलाज के दौरान दमतोड़ दिया। मृतकों की संख्या 1886 जा पहुंची है। मौत के बढ़ते आंकड़ों पर अंकुश नहीं लग रहा, हालांकि अधिकांश मौतें बैक डेट (पिछले दिनों/पिछले महीनों) की होती हैं जो मौजूदा दिन में जोड़ दी जाती हैं।

अगले 4 माह की चुनौती: प्रदूषण से अस्थमा, ठंड से हृदयरोग और इस साल कोरोना महामारी है सब पर भारी

'पत्रिका' ने 1 अक्टूबर सबसे पहले यह खुलासा किया था कि जिले मौतों की जानकारी छिपा रहे हैं। 22 अक्टूबर को बताया कि 405 मौतों की एंट्री बैक डेट पर की गई। जिसके बाद धीरे-धीरे कर रोजाना मौत की पुरानी संख्या आंकड़ों में जोड़ी जा रही है। सूत्र बताते हैं कि जिलों के पास अभी भी 110 से अधिक मौतों की जानकारी है, मगर आंकड़े धीरे-धीरे कर जारी करने के निर्देश ऊपर से हैं।

रिकवरी रेट राष्ट्रीय औसत से बस 4 प्रतिशत कम-

राष्ट्रीय स्तर पर कोरोना संक्रमण से स्वस्थ हुए मरीजों की दर (रिकवरी रेट) 90.85 प्रतिशत है। जबकि राज्य का रिकवरी रेट बढ़ते हुए 86.88 प्रतिशत जा पहुंचा है, जो 12 अक्टूबर को 45.3 प्रतिशत था। देश के रिकवरी रेट से हमारे राज्य का रिकवरी रेट सिर्फ 4 प्रतिशत कम है। मगर, मृत्युदर1.05 प्रतिशत जा पहुंची है।

ये भी पढ़ें: कोरोना से स्वस्थ हुए मरीजों को फिटनेस सर्टिफिकेट नहीं मिल रहा, सीएमएचओ के दफ्तर का चक्कर काट रहे लोग

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned