राज्य में सड़क हादसों से 10 महीने में 3543 लोगों की मौत

कुल 9097 हादसों में 8388 व्यक्ति हुए घायल, गतवर्ष की तुलना में 22.12 फीसदी कम हुए

By: Nikesh Kumar Dewangan

Updated: 20 Nov 2020, 08:28 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ में पिछले 10 महीनों में सड़क हादसों के साथ ही मौत के डराने वाले आकड़ों में कमी आई है। यह आकड़ें राज्य पुलिस के साथ ही अन्य एजेंसियों के लिए राहत भरी है। पीएचक्यू से मिली जानकारी के अनुसार जनवरी से सितंबर 2020 के दौरान कुल 9097 हादसे हुए। इस दौरान 8388 व्यक्ति घायल और 3543 लोगों की मौत हो गई। यह दुर्घटना पिछले वर्ष की अपेक्षा इस अवधि में 22.12, मृतकों की संख्या में 15.98 और घायल होने वालों की संख्या में 24.98 फीसदी की कमी आई है। बताया जाता है कि लगातार बढ़ रहे सड़क हादसों पर अंकुश लगाने राज्य पुलिस की टीम लगातार ब्लैक स्पॉट का निरीक्षण कर रही है। उसे ठीक करने के लिए संबंधित एजेसियों को रिपोर्ट भी भेजी गई है।

हादसों का शहर

राज्य में रायपुर, गरियाबंद, मुंगेली, दंतेवाड़ा, बीजापुर और नारायणपुर में हुए हादसों में सर्वाधिक लोगों की मौते हुए है। वहीं बलौदाबाजार महासमुंद, धमतरी, दुर्ग, बालोद, राजनांदगांव, कबीरधाम, बेमेतरा, बिलासपुर, जांजगीर-चांपा, कोरबा, रायगढ़,गौलेला-पेंड्रा, सरगुजा, जशपुर, सूरजपुर, बलरामपुर, कोरिया, जगदलपुर, कोंडागांव, कांकेर और सुकमा में हुए हादसों में कमी के साथ ही मृत्यु दर में कमी आई है। बताया जाता है कि इन जिलों के ब्लैकस्पाट को सुधारने के लिए लगातार स्थानीय पुलिस द्वारा कवायद की जा रही है।

हेलमेट नहीं पहनने से गई जान

पिछले 10 महीनों में दोपहिया वाहन के कुल 2359 सड़क हादसे हुए। इस दौरान 2361 व्यक्तियों की मौते हुई । इसमें से 2257 लोगों की मौत हेलमेट नहीं पहनने के कारण हुई। राज्य पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि उन्हें सिर पर गंभीर चोट लगी थी। बता दें कि प्रतिवर्ष सर्वाधिक हादसे दोपहिया वाहन की होती है और इस दौरान घायल होने वालों की मौत हो जाती है।

लॉकडाउन के बाद हादसों में इजाफा

लॉकडाउन के बाद लगातार बढ़ रहे हादसे राज्य पुलिस के लिए परेशानी का सबब बन गए है। राज्य पुलिस के आकड़ो के अनुसार अगस्त 2019 की अपेक्षा इसी अवधि के दौरान 2020 में 0.30 फीसदी, सितंबर में 13.87 और अक्टूबर में 0.52 फीसदी हादसों में मृत्यृ दर में इजाफा हुआ है। बता दें कि सितंबर 2020 में कुल 385 लोगों की सड़क हादसे में मौत हुई है।

Nikesh Kumar Dewangan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned