अगले साल शिक्षक दिवस पर सम्मानित होने वाले उत्कृष्ट शिक्षकों की लिस्ट जारी, CM ने दी बधाई

Teachers Day: शिक्षक दिवस के मौके पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी शिक्षकों को शुभकामनाएं दी।

By: Ashish Gupta

Published: 05 Sep 2019, 03:18 PM IST

रायपुर. शिक्षक दिवस (Teachers Day) के मौके पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने सभी शिक्षकों को शुभकामनाएं दी।

सीएम भूपेश ने एक बयान में कहा, आज पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन (Sarvepalli Radhakrishnan) की जयंती है, इस दिवस को पूरा देश शिक्षक दिवस के रूप में मनाता है। उन्होंने कहा, पूरा राष्ट्र उनका ऋणी है। उन्होंने राधाकृष्णन ने अपना पूरा जीवन समर्पित

उन्होंने बताया कि शिक्षक दिवस के मौके पर राज्यपाल अनुसुईया उइके (Chhattisgarh Governor Anusuiya Uikey) के मुख्य आतिथ्य में राजभवन में राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह आयोजित हुआ। इस समारोह में उत्कृष्ट शिक्षकों का सम्मान किया गया।

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने बताया कि अगले वर्ष शिक्षक दिवस पर सम्मानित होने वाले 48 शिक्षकों की सूची शिक्षामंत्री ने जारी कर दी है। उन्होंने कहा कि शिक्षक हमारे राष्ट्र निर्माता हैं। एक अच्छे इंसान के निर्माण में शिक्षक की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। मुख्यमंत्री ने शिक्षक दिवस के मौके पर सभी शिक्षकों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

राज्यपाल अनुसुईया उइके (Anusuiya Uikey) ने भी राजभवन में आयोजित राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की खुले दिल से तारीफ की।

राज्यपाल उइके ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में शिक्षा के क्षेत्र में विशेष रूप से प्रदेश के आदिवासी अंचलों में छत्तीसगढ़ सरकार की नई नीति लाकर लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने की दिशा में काम कर रहे हैं। इसके लिए मुख्यमंत्री बधाई के पात्र हैं।

अगले साल शिक्षक दिवस पर सम्मानित होने वाले उत्कृष्ट शिक्षकों की लिस्ट जारी, CM ने दी बधाई

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में आदिवासी अंचलों में शिक्षा, स्वास्थ्य और सुपोषण के लिए अनेक नवाचार प्रारंभ किए गए हैं। शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने की पहल की गई है।

आदिवासी अंचलों में कुपोषित बच्चों और एनीमिया से पीड़ित महिलाओं को नि:शुल्क भोजन देने का कार्य प्रारंभ किया गया हैं। इसके साथ ही सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से गुड़ और चना का वितरण प्रारंभ किया गया है।

आदिवासी अंचलों के हॉट बाजारों में नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच और उपचार की व्यवस्था प्रारंभ की गई है। इससे बड़ी संख्या में दूरस्थ अंचलों के निवासियों तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंच रही हैं।

आदिवासी अंचलों के विकास प्राधिकरणों बस्तर, सरगुजा और मध्य क्षेत्र विकास प्राधिकरण में स्थानीय विधायकों को अध्यक्ष और उपाध्याक्ष का दायित्व सौंप कर विकास कार्यो में उनकी भागीदारी सुनिश्चित की गई हैं।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned