2 लाख के बदले 50 हजार लेकर थमाया कागज का बंडल, जब देखा तो उड़ गए होश

Lalit Singh

Publish: Oct, 13 2017 01:06:37 (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
2 लाख के बदले 50 हजार लेकर थमाया कागज का बंडल, जब देखा तो उड़ गए होश

अज्ञात आरोपी द्वारा कागज का बंडल थमाकर नकद 50 हजार रुपए लेकर फरार होने का मामला आया है।

रायपुर. आमानाका थाना क्षेत्र अंतर्गत अज्ञात आरोपी द्वारा कागज का बंडल थमाकर नकद 50 हजार रुपए लेकर फरार होने का मामला आया है। गुरुवार को टाटीबंध स्टेट बैंक के पास स्थित रेलवे टिकट आरक्षण दफ्तर में कार्यरत तामेश्वर साहू के पास दोपहर तकरीबन डेढ़ बजे अज्ञात आरोपी नीले रंग के रूमाल में कागज के बंडल बांधकर लाया और उसमें दो लाख रुपए के नोट होने का झांसा देते हुए बदले में 50 हजार की मांग की।

कर्मचारी साहू द्वारा रूमाल छूकर देखने पर हूबहू दो हजार के बंडल जैसा प्रतीत हुआ और उसे बिना खोलकर देखे अज्ञात ठग को 50 हजार रुपए नकद थमा दिए। आरोपी के जाने के बाद रूमाल खोलकर देखने पर कर्मचारी के होश उड़ गए, नोट के स्थान पर कागज के बंडल सेट कर बांधे गए थे। काफी देर अज्ञात व्यक्ति की खोजबीन करने के बाद शाम 4 बजे कबीर नगर रहवासी अपने मालिक वीरेन्द्र सिंह को ठगी किए जाने की जानकारी दी। इसके पश्चात आमानाका थाने में शिकायत दर्ज कराई गई।

दूसरे पहलुओं पर भी पुलिस की नजर
लिहाजा घटना को लेकर पुलिस अन्य पहलुओं पर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार कर्मचारी दो लाख के बदले केवल 50 हजार आरक्षण काउंटर में जमा कर डेढ़ लाख रुपए से दीवाली मनाने की खुशी में बिना सोचे-समझे अज्ञात ठग को रुपए दे दिए। बहरहाल रूमाल खोलकर रुपए देखे बिना किसी व्यक्ति को 50 हजार रुपए देने की बात पुलिस को हजम नहीं हो रही है, ठग के साथ मिलीभगत का अंदेशा जाहिर करते हुए अन्य पहलुओं पर जांच की जा रही है।

एटीएम में स्कीमर और कैमरे लगाकर बनाए क्लोन

विदेशों में शॉपिंग करके ऑनलाइन ठगी के मामलों के पीछे मुंबई का नाइजीरियन गिरोह है। गिरोह के दो लोगों को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी एटीएम मशीन में स्कीमर और स्पॉय कैमरे की मदद से बैंक ग्राहकों के एटीएम कार्ड की पूरी जानकारी स्कैन कर लेते थे। इसके बाद उस एटीएम कार्ड का क्लोन बनाते थे। इसकी मदद से विदेशों में ऑनलाइन शॉपिंग व राशि का आहरण कर लेते थे। डीएसपी क्राइम सत्येंद्र पाल ने बताया कि जयस्तंभ चौक एटीएम के पास एक संदिग्ध युवक घूम रहा था। उसकी तलाशी के दौरान उसकी जेब से फेवीक्वीक मिला। इससे उसके एटीएम फ्रॉड करने वाला ठग होने का शक हुआ। पूछताछ में आरोपी ने एटीएम मशीन में स्कीमर लगाने का खुलासा किया। इसके बाद क्राइम ब्रांच ने आरोपी मेहबर और शहनवाज हनीफ को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने रायपुर के जयराम कॉम्पलेक्स स्थिति पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम मशीन में कैमरा लगाया है। क्राइम ब्रांच ने एटीएम मशीन के सीसीटीवी कैमरे की जांच की। इसमें दो युवक ११ अक्टूबर को एटीएम में स्कीमर और कैमरा लगाते दिखे। दोनों मुंबई के रहने वाले हैं। दोनों अमरावती से रायपुर पहुंचे थे और एक होटल ओम शांति में रुके थे। स्कीमर व कैमरा लगाने के बाद उसमें एटीएम की जानकारी स्टोर होने का इंतजार कर रहे थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned