अब तक प्रदेश में 33 हजार प्रवासी मजदूरों का हुआ पंजीयन, अभी भी 66 हजार योजना से बाहर

- 9 हजार 997 राशन कार्ड बनाए गए, छत्तीसगढ़ के 99236 मजदूर 21 राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों में फंस गए थे।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 02 Jun 2020, 07:17 AM IST

रायपुर। प्रदेश में अब तक 33 हजार 470 प्रवासी मजदूर सरकार की जानकारी में आएं हैं। 9 हजार 997 राशन कार्ड बनाए गए है। जिनमें से 23622 लोगों को मई और जून माह का खाद्यान्न आवंटित कर दिया गया है। अहम बात यह है कि सबसे कम बीजापुर में मात्र 16 प्रवासी मजदूरों का पंजीयन हुआ है। सबसे ज्यादा बिलासपुर में 8761 मजदूरों का पंजीयन हुआ है। दूसरे नंबर पर जांजगीर में 5394 मजदूर अभी तक चिन्हांकित हुए हैं। राजधानी रायपुर में महज 114 ही प्रवासी मजदूर चिंन्हांकित हुए हैं। जबकि कोरोना काल में श्रमिकों की वापसी के लिए जो डाटा श्रम विभाग में दर्ज हुआ था उसके मुताबिक अभी सिर्फ एक तिहाई मजदूरों का ही राशन देने के लिए पंजीयन हो पाया है। छत्तीसगढ़ के मजदूर 21 प्रदेश और 4 केंद्र शासित राज्यों 99236 मजदूर अलग-अलग राज्यों पहुंच हैं। छत्तीसगढ़ के 99236 मजदूर 21 राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों में फंस गए थे।

किस राज्य में कितने मजदूर
24090 मजदूर जम्मू-कश्मीर, महाराष्ट्र में 18704, उत्तर प्रदेश में 13172, तेलंगाना में 12730, गुजरात में 8071, कर्नाटक में 3279, तमिलनाडु में 2963, मध्यप्रदेश में 2840, आंध्र प्रदेश में 2392, हरियाणा में 2008, दिल्ली में 1967, हिमाचल प्रदेश में 1665 श्रमिक फंसे थे। सबसे अधिक मजदूर जांजगीर-चांपा के 25340 श्रमिक देश के अन्य राज्यों में दिहाड़ी मजदूर के रूप में काम करने गए थे।

हेल्प लाइन में दर्ज हुए मजदूरों की संख्या

बलौदाबाजार जिले के 20444, मुंगेली के 8623, कबीरधाम के 7668, बिलासपुर के 7366, बेमेतरा के 6215,
कोंडांगांव के 6182, राजनांदगांव के 5365, रायगढ़ के 2254, बीजापुर के 2000, रायपुर के 1557, दुर्ग के 1187,

जशपुर के 1010, गरियाबंद के 723, बालोद के 642, महासमुंद के 626, बलरामपुर जिले के 546 श्रमिक दूसरे राज्यों में काम के सिलसिले में गए थे, और अब कोरोना की वजह से वहां फंस गए थे।

खाद्य विभाग में दर्ज प्रवासी मजदूरों का डाटा
सं.क्र. जिला कुल सदस्य

1 बस्तर 282
2 बीजापुर 16

3 दन्तेवाड़ा 28
4 कांकेर 2114

5 कोंडागांव 34
6 नारायणपुर 12

7 सुकमा 516
8 बिलासपुर 8761

9 जांजगीर 5394
10 कोरबा 1776

11 मुंगेली 1396
12 रायगढ़ 2275

13 बालोद 281
14 बेमेतरा 998

15 दुर्ग 1882
16 कवर्धा 948

17 राजनांदगांव 673
18 बलौदा बाजार 779

19 धमतरी 740
20 गरियाबंद 107

21 महासमुंद 267
22 रायपुर 171

23 बलरामपुर 1194
24 जशपुर 68

25 कोरिया 874
26 सरगुजा 1357

27 सुरजपुर 527


कुल 33470

राशन के लिए प्रवासी मजदूरों का पंजीयन किया जा रहा है। उन्हें दो माह का खाद्यन्न मुफ्त दिया जा रहा है।
अनुराग सिंह भदौरिया, नियंत्रक, खाद्य शाखा

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned