7 दिनों में 668 सक्रमितों की मौत, श्मशानों में वेटिंग

कोरोना से बिगड़ते हालात : छत्तीसगढ़ के 18 जिलों में लॉकडाउन

By: ramendra singh

Updated: 13 Apr 2021, 08:07 PM IST

रायपुर . कोरोना वायरस का बढ़ते संक्रमण पर लगाम कसने के लिए भूपेश सरकार लगातार नए फैसले ले रही है, लेकिन फिलहाल ये नाकाफी साबित हो रहे हैं। सोमवार को बीते 24 घंटों में 13576 नए केस मिले और 1&2 मरीजों की मौत हुई। सरकार के लिए संक्रमित मरीजों के इलाज की समुचित व्यवस्था के साथ मृतकों के अंतिम संस्कार का इंतजाम करना भी मुश्किल साबित हो रहा है। पिछले 7 दिन में राज्य में 668 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। हालत यह है कि मृतकों की एंट्री भी समय पर नहीं हो पा रही। राजधानी रायपुर, दुर्ग और राजनांदगांव सहित कई शहरों में श्मशानों में जगह नहीं है। लाइन लगाकर शवों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है।

24 घंटे में मिले 13576 नए संक्रमित मरीज

राज्य में पिछले 24 घंटों में रेकॉर्ड 13576 नए संक्रमित मिले हैं। अकेले रायपुर में ही 3442 नए केस सामने आए और 58 मौतें भी हुईं। पूरे प्रदेश में लगातार बढ़ रहे मौत के आंकड़ों से लोगों में दहशत का माहौल है। श्मशान घाटों में अंतिम संस्कार के लिए एक से दो दिन का इंतजार करना पड़ रहा है। रायपुर के 18 मुक्तिधामों में रोजाना 60 शवों का अंतिम संस्कार किया जा सकता है। मृतकों की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए 11 मुक्तिधामों को कोविड के लिए आरक्षित कर दिया गया है।
कोविड केयर सेंटर और आइसोलेशन सेंटर बढ़ाए
बेकाबू होते संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए सरकार लगातार नए फैसले कर रही है। प्रदेश में कोविड केयर सेंटर और आइसोलेशन सेंटर की संख्या बढ़ाई जा रही है। अकेले रायपुर जिले में ही 12 नये कोविड केयर सेंटर तैयार किये जा रहे हैं। रायपुर के इंडोर स्टेडियम में &60 बेड का अस्थाई अस्पताल तैयार किया गया है। 60 प्राइवेट अस्पतालों को भी कोविड मरीजों के इलाज की अनुमति दी गई है। कोविड सेंटर और अस्पतालों में डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ की संख्या भी बढ़ाई जा रही है। इसके लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के अधिकतर डॉक्टरों और कर्मचारियों को कोरोना ड्यूटी में लगाने का आदेश मंगलवार को जारी किया गया है।

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही और सुकमा में लॉकडाउन

बढ़ते संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए राज्य के 18 जिलों में लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। मंगलवार को गौरेला-पेंड्रा-मरवाही और सुकमा जिलों में लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया है। गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में 14 अप्रैल की सुबह 6 बजे से 21 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। सुकमा में इसकी शुरुआत 15 अप्रैल से होगी। इसी तरह, दुर्ग में लॉकडाउन को 19 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है। पहले यहां 6 से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की गई थी।

ramendra singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned