दिसंबर तक शादी के सिर्फ 7 शुभ मुहूर्त, फिर 18 अप्रैल 2021 तक करना होगा इंतजार, नहीं होंगे शुभ कार्य

नवंबर में 3 दिन और दिसंबर में सिर्फ 4 दिन शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat) है। यानी इन दो महीनों में केवल 7 दिन शादियां हो सकती हैं।

By: Bhawna Chaudhary

Updated: 28 Sep 2020, 09:41 AM IST

रायपुर. जितनी दिक्कतें लोगों को करोनाकाल (Corona Virus) से हैं, वैसा ही संकट शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat) की कमी को लेकर भी है। खासकर उन परिवारों में जिन्होंने बेटा-बेटियों का रिश्ता तय कर रखे है। माता-पिता यह सपना भी संजोए हुए है कि शादी-विवाह करके अपनी जिम्मेदारी से मुक्त हो जाएं। लेकिन उन्हें मुहूर्त के लिए इंतजार करना पड़ेगा। ऐसी ही स्थितियां बन रही हैं। पंडितों के अनुसार नवंबर में 3 दिन और दिसंबर में सिर्फ 4 दिन शुभ मुहूर्त है। यानी इन दो महीनों में केवल 7 दिन शादियां हो सकती हैं।

शहरी क्षेत्रों में जिस समय सबसे अधिक शादियों का मुहूर्त हुआ करता था, उसी महीने में 15 दिसंबर से 15 अप्रैल के बीच शुभ मुहूर्त नहीं बन रहा है। पंडितों का कहना है कि इन्हीं महीनों में धनु संक्रांति से लेकर गुरु और शुक्र जैसे ग्रह को अस्त हो रहे है। इसलिए मांगलिक कार्यों के लिए मुहूर्त का इंतजार करना होगा। इससे पहले मार्च महीने के आखिरी सप्ताह से कोरोना संक्रमण का खतरा मंडराने के कारण लोगों ने अपने अपने घरों की शादियां कैंसिल कर दिया था, क्योंकि देश में लॉकडाउन।

इस वजह से अप्रैल से जून से महीने में जब ग्रामीण क्षेत्रों में शादी विवाह, उपनयन संस्कार का पीक सीजन होता है, उस समय भी लोग मांगलिक कार्य नहीं कर पाए। अब अनलॉक जैसी स्थितियां बनी तो शुभ मुहूर्त ही नहीं है। जबकि अच्छे कारोबार के लिए बाजारों को भी शुभ मुहूर्त का काफी इंतजार रहता है। बैंडबाजा, फूलबाजार को काफी उम्मीदें रहती हैं।

सूर्य का धनु राशि में प्रवेश, यानी धनुर्मास प्राचीन महामाया मंदिर के पंडित
मनोज शुक्ल के अनुसार दिवाली के बाद 25 नवंबर को देवउठनी एकादशी है। इसी तिथि पर भगवान शालिग्राम और माता तुलसी का विवाह पूजन के साथ शुभ मुहूर्त प्रारंभ होता है। 15 दिसंबर को रात 9.31 बजे सूर्य का धनु राशि में प्रवेश होने से धनुर्मास प्रारंभ हो जाएगा, जो 14 जनवरी तक रहेगा। इसलिए मुहूर्त नहीं है। इसके बाद 17 जनवरी से 12 फरवरी तक गुरु ग्रह और 16 फरवरी से 18 अप्रैल तक शुक्र ग्रह अस्त रहेंगा, जो मांगलिक कार्यों के लिए विशेष माने गए हैं। इसलिए अगले साल 2021 में नवरात्रि पर्व के बाद शुभ मुहूर्त आरंभ होगा।

इन तारीखों पर शुभ मुहूर्त
नवंबर में तीन दिन 25, 27 और 30 तरीख और दिसंबर में चार दिन 7, 9, 10 और 11 तारीख को शुभ मुहूर्त है।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned