कोरोना संकट: एक दिन में 8 लोगों की मौत, सेंट्रल जेल तक संक्रमण पहुंचने से मचा हडकंप

18 मार्च को प्रदेश का पहला कोरोना संक्रमित मरीज मिला था। प्रदेश में सबसे ज्यादा रायपुर में कोरोना संक्रमित मिले हैं। यहां पर अब तक 32788 मरीज मिले हैं, जिसमें 1135 एक्टिव तथा 2119 डिस्चार्ज हो चुके हैं। सबसे ज्यादा मौत के मामले में रायुपर प्रदेश के अन्य जिलों से काफी आगे है।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 04 Aug 2020, 10:57 PM IST

रायपुर. प्रदेश में कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 10 हजार के पार पहुंच गया है। मंगलवार को रायपुर में 106 समेत प्रदेश में कोरोना के 280 नए मरीज मिले हैं, जिससे प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 10109 पहुंच गया है। हालांकि, इसमें 7613 लोग ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं। इधर, प्रदेश में 24 घंटे में रिकॉर्ड 8 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है।

मरने वालों में रायपुर व बिलासपुर के 3-3 तथा सरगुजा और दुर्ग के एक-एक शामिल हैं। सभी कोरोना संक्रमण के अलावा अन्य बीमारियों से भी ग्रसित थे। रायपुर सेंट्रल जेल में बंद 16 बंदी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जेल डीआईजी केके गुप्ता ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि कोरोना के लक्षण दिखने पर 40 बंदियों का सैंपल टेस्ट कराया गया था, जिसमें से 16 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

गौरतलब है कि 18 मार्च को रायपुर में प्रदेश का पहला कोरोना संक्रमित मरीज मिला था। प्रदेश में सबसे ज्यादा रायपुर में कोरोना संक्रमित मिले हैं। यहां पर अब तक 32788 मरीज मिले हैं, जिसमें 1135 एक्टिव तथा 2119 डिस्चार्ज हो चुके हैं। सबसे ज्यादा मौत के मामले में रायुपर प्रदेश के अन्य जिलों से काफी आगे है। यहां पर अब तक 34 मौतें हो चुकी है। रायपुर जिले में 31 मई तक सिर्फ 15 कोरोना संक्रमित मिले थे। जून में यह आंकड़ा 324 था, जो जुलाई में बढ़कर 2947 तक पहुंच गया।

महापौर का पीएसओ पॉजिटिव

महापौर एजाज ढेबर का एक पीएसओ भी कोरोना पॉजिटिव मिला है। विगत 3-5 दिनों पहले महापौर का कैमरामैन कोरोना संक्रमित मिला था। प्राइमरी कॉन्टेक्ट के आधार पर पीएसओ समेत कई लोगों का सैंपल लिया गया था। कैमरामैन के कोरोना पॉजिटिव मिलते ही महापौर एजाज ढेबर और कुछ कर्मचारी होम क्वारंटाइन हो गए थे।

340043सैंपल की जांच

प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस के परीक्षण के लिए कुल 340043 सैंपल जांच किया गया है। प्रदेश में कोरोना सैंपल की जांच आरटी-पीसीआर, ट्रू-नॉट और एंटीजन किट से जांच की गई है। आरटी-पीसीआर से 277536, ट्र-नॉट से 26553 और एंटीजन किट से 35954 जांच हुई है। एम्स, रायपुर मेडिकल कॉलेज, रायगढ़, जगदलपुर, अंबिकापुर, बिलासपुर और राजनांदगांव में आरटी-पीसीआर मशीन लगाई गई है। राजनांदगांव में अभी जांच शुरू नही हुई है। अंबिकापुर और बिलासपुर में एक-दो दिन पहले से ही जांच की जा रही है।

स्वास्थ्य मंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रें सिंग से वायरोलॉजी लैब का किया उद्घाटन

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज के वायरोलॉजी लैब का शुभारंभ किया। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस उच्च स्तरीय लैब की स्थापना से कोरोना वायरस के साथ ही अन्य बीमारियों की जांच की जा सकेगी। अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में2 करोड़ की लागत से बीएसएल-2 लैब स्थापित किया गया है। लैब में कोरोना वायरस की पहचान के लिए आरटी-पीसीआर जांच 3 अगस्त की शाम से शुरू की गई है।

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि कोविड-19 की रोकथाम के लिए विकासखण्ड मुख्यालयों में भवन चिन्हांकित कर कोविड केयर सेंटर की स्थापना के निर्देश दिए गए हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि कांकेर, कोरबा और महासमुंद में नए मेडिकल कॉलेज का काम जल्द शुरू होगा। केंद्र सरकार से 50-50 करोड़ रुपए की स्वीकृति मिल गई है।

छत्तीसगढ़ में अब तक

संक्रमित मरीज-10109

एक्टिव-2427
डिस्चार्ज-7613

मौत-69

4अगस्त को मिले मरीज

रायपुर-106

दुर्ग- 42
बस्तर-37

बलरामपुर-25
कोंडागांव-25

सूरजपुर-09
रायगढ़-06

राजनांदगांव-05
महासमुंद-05

बिलासपुर-04
कांकेर-04

कबीरधाम-02
बलौदाबाजार-02

जांजगीर-चांपा-02
कोरिया-02

धमतरी-01
जशपुर-01

नारायणपुर-01
बीजापुर-01

03 अगस्त को देर रात मिले मरीज

राजनांदगांव-07
रायपुर-01

धमतरी- 01

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned