क्यों एक मां अपने ही बच्चे की खातिर खा रही है दर दर की ठोकरें

क्यों एक मां अपने ही बच्चे की खातिर खा रही है दर दर की ठोकरें

Deepak Sahu | Publish: May, 30 2019 09:27:51 PM (IST) | Updated: May, 30 2019 09:29:51 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

जिला बाल सरंक्षण अधिकारी नवनीत स्वर्णकार ने बताया कि शनिवार को सीडब्ल्यूसी (Child Welfare Committee) की बैठक होगी जिसमें निर्णय लिया जाएगा

रायपुर. अपनी एक साल की बच्ची को पाने के लिए रायपुर सीडब्ल्यूसी (Child Welfare Committee) में मां ने आवेदन किया है। आवेदिका रूही आजमी की शादी संजय नगर निवासी मो. फहीम से हुई थी। पति द्वारा प्रताडि़त करने के चलते आवेदिका अपने मायके रायगढ़ चली गई थी। रूही आजमी से उसके पति ने उसकी एक साल की बच्ची भी छीन ली। अपनी बच्ची को लेने के लिए ही रूही ने रायगढ़ सीडब्ल्यूसी में आवेदन लगाया है।

रायगढ़ सीडब्ल्यूसी से मामला रायपुर सीडब्ल्यूसी पहुंचा है। जिला बाल सरंक्षण अधिकारी नवनीत स्वर्णकार ने बताया कि शनिवार को सीडब्ल्यूसी (Child Welfare Committee) की बैठक होगी उसी में निर्णय लिया जाएगा कि बच्ची को पिता के पास रहने देना है कि मां के पास देना है।

उन्होंने बताया कि जेजे एक्ट (JJ Act) के अनुसार 6 साल की उम्र तक तो बच्चा मां के पास ही रहता है इसी को देखते हुए ही बच्ची को मां के सुपुर्द किया जाएगा। यदि मां बच्ची के पालन-पोषण में सक्षम है और बच्ची को मां के साथ कोई परेशानी नहीं होगी तो उस बच्ची को उसकी मां को दिलाया जाएगा।

मामले में निर्णय नहीं होने की स्थिति में ही उसे कुटुंब न्यायालय में भेजा जाएगा फिर वहीं से निर्णय होगा। रायपुर सीडब्ल्यूसी (Child Welfare Committee) ने टिकरापारा पुलिस को शनिवार को मो.फहीम को उसकी बच्ची के साथ पेश होने का आदेश दिया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned