लॉकडाउन के दूसरे चरण में ‘आशाऐं' समाजसेवी संस्था’ ने जिला प्रशासन को सौंपा 650 बैग सूखा राशन

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी सभी स्वयं सेवी संस्थाओं की सराहना की थी, एवं सभी से आग्रह भी किया था कि जिला प्रशासन के साथ समन्वय बनाकर अपना नेक काम जारी रखें।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 18 Apr 2020, 05:53 PM IST

रायपुर। लॉकडाउन के दूसरे चरण में आशाऐं समाज सेवी संस्था ने लगभग 1000 राशन बैग रेडी कर जरूरतमंदों को वितरण करने की तैयारी की है, जिसमें कि 650 राशन बैग 17 अप्रैल को ज़िला प्रशासन को रायपुर कलेक्टर एवं ज़िला पंचायत CEO के मौजूदगी में सौंपा गया।

वहीं लॉकडाउन के पहले चरण में आशाऐं समाजसेवी संस्था ने 10 दीनो में 5450 लोगों को फ़ूड पैकेट, सैनीटाईज़र, साबुन, मास्क, एवं 400 बैग सूखा राशन वितरित किया था। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी सभी स्वयं सेवी संस्थाओं की सराहना की थी, एवं सभी से आग्रह भी किया था कि जिला प्रशासन के साथ समन्वय बनाकर अपना नेक काम जारी रखें।

आशाऐं की इस मुहिम में रायपुर के गुरप्रीत सलूजा, संदीप माखीजा, परवेज़ फ़ारूक़ी, अशोक सुराना, पीयूष भाटिया, सौरभ जैन, उमेर ढेबर, धीरज सेठिया, शौर्यादित्य सिंह, कुँवर प्रवीण सिंह, मोहम्मद ज़फ़र, सौरभ अग्रवाल, राहुल गज्जलवार, तरनजीत सिंह होरा, मुकेश मुठरेजा, आदित्य बुधिया, यश टुटेजा, सोमी टुटेजा, नैना होरा, जसलीन होरा, आयुशा राजपाल, अनुश्री टुटेजा, कारन राजपाल, रिशब साहू शामिल हैं । पूर्व में रायपुर ज़िला प्रशासन को आशाऐं समाजसेवी संस्था द्वारा 400 KG चावल, 250 KG आटा, 200 KG आलू, 200 KG प्याज़, 30 लीटर तेल दिया जा चुका है।

आशाऐं के उक्त राशन बैग में – 5 किलो चावल, 1 किलो आटा, 1/2 किलो दाल, 1/2 लीटर तेल, 1/2 किलो नमक, 1 किलो आलू, 1 किलो प्याज़, 2 नग साबुन, पारले बिस्किट रखा गया है।

Click & Read More Chhattisgarh News.

साथी की बेरहमी से हत्या कर आरोपी हुआ फरार ! मृतक के दोस्त पर पुलिस को शक,आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned