एबीवीपी ने होलीक्रॉस स्कूल में लगाया ताला, निजी स्कूल एसोसिएशन ने बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष को लिखी चिट्ठी

होलीक्रॉस स्कूल प्रबंधन और पालकों के बीच विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है। पालकों के साथ अभाविप के पदाधिकारी-कार्यकर्ता साथ आ गए हैं। अभाविप के पदाधिकारियों ने शनिवार को पेंशनबाड़ा इलाके में संचालित होलीक्रॉस स्कूल पर ताला लगा दिया।

By: Ashish Gupta

Published: 21 Aug 2021, 11:11 PM IST

रायपुर. होलीक्रॉस स्कूल प्रबंधन और पालकों के बीच विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है। पालकों के साथ अभाविप के पदाधिकारी-कार्यकर्ता साथ आ गए हैं। अभाविप के पदाधिकारियों ने शनिवार को पेंशनबाड़ा इलाके में संचालित होलीक्रॉस स्कूल पर ताला लगा दिया। इस प्रदर्शन के बाद छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन (Chhattisgarh Private School Association) लामबंद हो गया है। एसोसिएशन ने बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय (BJP state president Vishnudev Sai) को पत्र लिखकर आपत्ति दर्ज कराई है। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि अभाविप के इस प्रदर्शन से स्कूल में पढ़ने वाले सैकड़ों छात्रों का भविष्य खराब हो सकता है। एसोसिएशन ने अभाविप के प्रदर्शनकारियों को इस तरह से प्रदर्शन ना करने की अपील की है।

सबसे ज्यादा चर्चा में रहा स्कूल
पेंशनबाड़ा इलाके में स्थित होलीक्रॉस स्कूल कोरोना काल में सबसे ज्यादा चर्चित स्कूल रहा है। स्कूल के बाहर कोरोना काल में पालक, पालक संघ और अब अभाविप ने कई बार प्रदर्शन किया है। स्कूल प्रबंधन और पालकों के बीच फीस मुद्दे को लेकर संघर्ष चल रहा है। निजी स्कूल एसोसिएशन की पहल पर स्कूल ने छात्रों को ऑनलाइन क्लास से बाहर निकालने की प्रक्रिया बंद कर दी है। स्कूल प्रबंधन पालकों से फीस जमा करने की बात कह रहा है। इसी बात को लेकर प्रदर्शन जारी है।

ज्यादा शुल्क मांग रहा प्रबंधन
अभाविप के पदाधिकारियों ने कहा कि पालकों से शिकायत मिली थी कि स्कूल प्रबंधन नियम से ज्यादा पैसे की मांग कर रहा है। जो पालक पैसा नहीं जमा कर रहा है, उनके बच्चों को स्कूल से निकाला जा रहा है। अभाविप के पदाधिकारियों ने कहा कि पूर्व में इसी बात को लेकर प्रदर्शन किया गया था, लेकिन स्कूल प्रबंधन बातचीत करने नहीं आया। स्कूल प्रबंधन से तीन दिन में व्यवस्था सुधारने की मांग की थी। स्कूल प्रबंधन ने बात नहीं मानी, इसलिए शनिवार को फिर से अभाविप के पदाधिकारी-कार्यकर्ताओं ने फिर से प्रदर्शन किया।

छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव गुप्ता ने कहा, स्कूल शिक्षा समिति के निर्देशानुसार पालकों से शुल्क मांगा जा रहा है। नियमानुसार शुल्क मांगने के बावजूद स्कूल परिसर में तालाबंदी किया जाना गलत है। अभाविप के पदाधिकारियों के बारे में बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष को सूचना दिया गया है। भविष्य में इस तरह से प्रदर्शन ना हो, इस बात के बारे में पत्र लिखा है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned