'वास्तुशास्त्र' के अनुसार इस दिशा को रखें एक्टिव, हो जाएंगे मालामाल

वास्तुशास्त्र में हर व्यापार या नौकरी की एक दिशा निर्धारित है, इस दिशा को एक्टिव करने के लिए इस दिशा के कोण को एक्टिव किया जाता है...

By: bhemendra yadav

Published: 24 Jun 2020, 07:26 PM IST

वास्तुशास्त्र में हर व्यापार या नौकरी की एक दिशा निर्धारित है, इस दिशा को एक्टिव करने के लिए इस दिशा के कोण को एक्टिव किया जाता है। आइये आज हम भूमि , भवन और वाहन से संवन्धित व्यापार और व्यवसाय को एक्टिव करने का प्रयास करते हैं। प्रापर्टी डीलर के लिए वास्तु के अनुसार दक्षिण दिशा उत्तम मानी जाती है। जिनका भी कार्य भूमि , भवन या वाहन से सम्बन्धित है , वास्तु शास्त्र के अनुसार उनका कोना दक्षिण दिशा है।

-दक्षिण दिशा को अधिक से अधिक विकसित करें ,इससे आपके व्यापार में रूचि बड़ेगी और काम में चार चाँद लगेंगे
-दक्षिण दिशा को विकसित करने से आपके व्यापर का नाम भी बड़ेगा।
-अगर आप अपने व्यापार को शहर के चारों ओर फैलाना चाहते हैं तो टेबल के नेरित्य कोण में एक क्रिस्टल ग्लोब स्थापित करें
-प्रापर्टी डीलर के लिए दक्षिण महत्वपूर्ण कोना होता है इसलिए दक्षिण दिशा की देखरेख करना अत्यंत आवश्यक है।
-दक्षिण दिशा में नकारात्मक उर्जा फ़ैलाने वाली कोई भी निर्माण न करें --जैसे शौचालय ---प्रापर्टी डीलर के लिए कोशिश यह होनी चाहिए की दक्षिण दिशा में शौचालय न हो।
-दक्षिण दिशा में नकारात्मक उर्जा फ़ैलाने वाली कोई भी सामग्री न रखें
-अगर दक्षिण दिशा में कोई कबाड़ रखा हुवा है तो तुरंत घर या आफिस से बाहर निकालें
-दक्षिण दिशा का तत्व अग्नि होता है इसलिए दक्षिण दिशा में रखा हुवा कोई भी पानी का भंडार आपके व्यापार के खिलाफ हो जायेगा।
-अगर आप भी अपने व्यवसाय की दिशा वास्तु के अनुसार जानना चाहते है तो संकोच न करें।
-आपके द्वारा पूछा गया कोई भी प्रश्न कई लोगों के जीवन में परिवर्तन ला सकता है।

Show More
bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned