मास्क नहीं पहनने पर 50 लोगों के खिलाफ हुई कार्रवाई

राजस्व, पुलिस व नगरीय निकायों की संयुक्त टीम ने बुधवार सायं से शहरी क्षेत्रों 50 लोगों के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए 25 हजार रुपए के अर्थदण्ड वसूल किए हैं। प्रत्येक व्यक्ति से 5 सौ रुपए की चालान काटी गई है।

By: dharmendra ghidode

Updated: 18 Apr 2020, 05:24 PM IST

बलौदाबाजार. कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क अथवा फेस कवर लगाने को अनिवार्य किया गया है। बावजूद इसके कुछ लोग लापरवाही करते हुए एक प्रकार से कोरोना महामारी को बुलावा भेज रहे हैं। ऐसे लोगों के विरुद्ध जिला प्रशासन के निर्देश पर दण्डात्मक कार्रवाई में तेजी लाई गई है। राजस्व,पुलिस व नगरीय निकायों की संयुक्त टीम ने बुधवार सायं से शहरी क्षेत्रों 50 लोगों के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए 25 हजार रुपए के अर्थदण्ड वसूल किए हैं। प्रत्येक व्यक्ति से 5 सौ रुपए की चालान काटी गई है।
व्यक्ति का चेहरा ढंका होना जरूरी
उल्लेखनीय है कि भारत सरकार ने एक अनिवार्य आदेश जारी कर घर से बाहर निकलने वाले प्रत्येक व्यक्तिके चेहरे ढंके होने को जरूरी किया है, ताकि उनके खांसी अथवा छींक दूसरे व्यक्ति पर ना पड़े। शुरू के दो दिनों में चालानी कार्रवाई नहीं करके केवल समझाइश दी गई थी, लेकिन देखा जा रहा है कि कुछ लोग आदेश की अवज्ञा कर रहे हैं। संयुक्त कलेक्टर व नगरीय निकायों के प्रभारी अरविन्द पाण्डेय ने बताया कि यदि किसी के पास मास्क की व्यवस्था नहीं है तो वे रूमाल अथवा गमछे से चेहरा ढंक सकते हैं। लोगों की सुविधा के लिए किराना दुकानों में भी रूमाल व गमछा रखने की छूट प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि तालाबंदी अवधि तक प्रतिदिन मास्क नहीं पहनने वालों पर सघन जांच जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का फैलाव खांसी अथवा छींक से होता है। एक दफा की खांसी में हजारों की संख्या में वायरस बाहर निकलते हैं जो कि सैकड़ों व्यक्ति को चपेट में लेने के लिए पर्याप्त होते हैं।

Corona virus
dharmendra ghidode Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned