कृषि विश्वविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया शुरू, पहले दिन बीएससी एग्रीकल्चर की रही ज्यादा डिमांड

विश्वविद्यालय प्रबंधन का कहना है, कि आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद १२वीं के नंबरों के आधार पर छात्रों की मेरिट लिस्ट निकाली जाएगी। मेरिट लिस्ट के माध्यम से इस सत्र प्रवेश होगा।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 13 Aug 2020, 11:29 PM IST

रायपुर. इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया गुरुवार से शुरू हो गई है। गुरुवार को विश्वविद्यालय में बीएससी एग्रीकल्चर संकाय में प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी लेने छात्रों में होड़ मची रही। विश्वविद्यालय प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार पिछले तीन वर्षों में पहली बार एेसा देखा है कि किसी विषय के लिए बड़ी संख्या में छात्र जानकारी जुटा रहे है। बीएससी एग्रीकल्चर के अलावा एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग के लिए छात्रों हेल्प डेस्क की मदद से जानकारियां मांगी और ऑनलाइन आवेदन करना शुरू कर दिया है।

पहले दिन आए 50 से ज्यादा कॉल

विश्वविद्यालय प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार को 50 से ज्यादा कॉल हेल्प डेस्क और मेल के माध्यम से आई है। इन सभी छात्रों को संकाय की जानकारी, शुल्क और प्रवेश प्रक्रिया का तरीका हेल्प डेस्क के जिम्मेदारों द्वारा बताया गया है। संकायों में सीटों की जानकारी भी कुछ छात्रों ने ली है। विश्वविद्यालय प्रबंधन का कहना है, कि आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद 12वीं के नंबरों के आधार पर छात्रों की मेरिट लिस्ट निकाली जाएगी। मेरिट लिस्ट के माध्यम से इस सत्र प्रवेश होगा।

मैनेजमेंट कोटा के अंर्तगत बढ़ेंगी सीटें

विश्वविद्यालय प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार मैनेजमेंट कोटा के अंर्तगत स्नातकोत्तर में २० और पीएचडी में 19 सीटें बढ़ेंगी। इससे स्थानीय छात्रों को अवसर मिलेगा। सीटें कम होने से कई छात्रों को मौका नहीं मिल पाता था। विवि में स्नातक की 2300, स्नातकोत्तर की 400 और पीएचडी की 100 सीटें हैं। विश्वविद्यालय प्रबंधन ने इस वर्ष फीस ना बढ़ाने का निर्णय भी लिया है।

विश्वविद्यालय में ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया गुरुवार से शुरू हो गई है। गुरुवार को हेल्प डेस्क और वेबसाइट में लिखे नंबरों में लगभग ५० से ज्यादा कॉल प्रवेश प्रक्रिया पूछने के संबंध में आई है। छात्रों ने सबसे ज्यादा बीएससी एग्रीकल्चर संकाय की जानकारी पूछी गई है। कुछ छात्रों ने सीटों की संख्या और शुल्क के बारे में भी पूछा है। छात्रों की समस्या का समाधान करके प्रवेश प्रक्रिया का पूरा तरीका बताया गया है।

-संजय नैय्यर, मीडिया प्रभारी

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned