भगवान भाव के भूखे, कथा सुनने के बाद इसे जीवन में उतारने से बनेंगे काम

बिरगांव जागृति नगर में श्रीमद् भागवत कथा से पूर्व शुक्रवार को कलश यात्रा निकाली गई ।

रायपुर. पुरानी बस्ती के गोपाल मंदिर में चल रही नौ दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा का विश्रांति करते हुए संत गोपालशरण देवाचार्य ने कहा कि भगवान भाव के भूखे, सच्चे मन से स्मरण करें। कथा सुनकर उसे जीवन में उतारने से कथा का पूर्ण लाभ मिलता है। गोपाल मंदिर के 29वां वार्षिक उत्सव कथा आयोजन के रूप में मनाया गया। श्रद्धालुओं ने आहुतियां, महाआरती कर भंडारे में प्रसाद ग्रहण किया। कथा स्थल पर आचार्य ध्रुव त्रिपाठी ने पूर्णाहुति संपन्न कराया। इसके बाद संत गोपालशरण ने गीता पर प्रवचन करते हुए बताया कि कुरुक्षेत्र की रणभूमि में अर्जुन को योग के बारे में बताते हुए श्रीकृष्ण कहते हैं कि मुझे पाने के तीन मार्ग हैं. कर्म योग, ज्ञान योग और भक्ति योग। अगर कोई व्यक्ति इन तीन मार्ग पर भी न चल सके तो सबसे आसान तरीके से पा सकता है और वो मार्ग है- शरणागति। विश्रांति अवसर पर महंत राजीवनयन शरण, पं. वासुदेव त्रिपाठी, पं. गिरजा शरण द्विवेदी, महंत राजेश शर्मा, ज्योतिषाचार्य रोहित पांडेय सहित श्रद्धालुओं ने श्रीमद् भागवत महापुराण की आरती उतारी।


भक्तों ने लिया प्रसाद
भगवत गीता पर तुलसी वर्षा की गई। इस दौरान महाराज ने महाभारत के प्रसंग का वर्णन करते हुए बताया कि धर्म और अधर्म के बीच लड़ाई में हमेशा धर्म की विजय हुई है। भगवान श्रीकृष्ण ने एेसा ही उपदेश दिया है। इसके बाद महाभंडारे में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया।

बिरगांव में निकाली कलश यात्रा गोकर्ण कथा का प्रसंग सुनाया
बिरगांव जागृति नगर में श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। यहां श्रद्धालुओं ने शुक्रवार को कलश यात्रा निकाली। इसके पंडित अजय महाराज ने गोकर्ण की कथा का श्रवण कराया। साथ ही बताया कि जिस तरह राजा परीक्षित को कथा सुनने से मोक्ष की प्राप्ति हुई, उसी तरह कथा सुनने के साथ ही जीवन में उतारने से घर, परिवार और समाज में संस्कार का बीजारोपण होता है। भोला महाराज ने बताया कि कथा रोजाना दोपहर 1 से 5 बजे तक २२ फरवरी तक चलेगी। मुख्य जजमान राजा परीक्षित के रूप में कैलाश नाथ, विजय कुमार, अरुण कुमार, महेंद्र कुमार, सुनील कुमार, शरद कुमार, शैलेश पांडे सहित श्रद्धालु शामिल हुए।

Devendra sahu Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned