एग्री इनोवेशन वर्कशॉप में स्टूडेंट्स को दी जानकारी, कृषि में स्टार्टअप की अपार संभावना

राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान एवं प्रबंधन अकादमी, हैदराबाद के सहयोग से दो दिवसीय स्टार्टअप एवं उद्यमिता विकास कार्यशाला का समापन शनिवार को हुआ

By: Deepak Sahu

Published: 30 Dec 2018, 10:32 AM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ बायोटेक्नोलॉजी प्रमोशन सोसायटी द्वारा इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, सेन्टर फॉर एग्री इनोवेशन तथा राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान एवं प्रबंधन अकादमी, हैदराबाद के सहयोग से दो दिवसीय स्टार्टअप एवं उद्यमिता विकास कार्यशाला का समापन शनिवार को हुआ।

समापन समारोह के मुख्य अतिथि इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के संचालक अनुसंधान डॉ. आरके बाजपेयी ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में स्टार्टअप प्रारंभ करने की अपार संभावनाएं हैं और यह कार्यशाला स्टार्टअप स्थापित करने के इच्छुक उद्यमियों एवं कृषि छात्रों के लिए मददगार साबित होगी।

कार्यशाला में कृषि के क्षेत्र में स्टार्टअप प्रारंभ करने के इच्छुक नवाचारी उद्यमियों को विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन से लेकर ढ़ांचागत सहयोग, वित्तीय मदद और बाजार आदि की जानकारी दी गई। समापन समारोह में छत्तीसगढ़ बायोटेक प्रमोशन सोसायटी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गिरीश चंदेल सहित अन्य अतिथि उपस्थित थे।

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में दो दिवसीय स्टार्टअप एवं उद्यमिता विकास कार्यशाला का शुभारंभ शुक्रवार को हुआ। छग बॉयोटेक्नोलॉजी प्रमोशन सोसायटी द्वारा कृषि विवि के सेंटर फॉर एग्रीकल्चर इनोवेशन तथा राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान एवं प्रबंधन अकादमी हैदराबाद के सहयोग से आयोजित कार्यशाला में विभिन्न विशेषज्ञों ने संबोधित किया।

Show More
Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned