कायाकल्प की टीम के आने से पहले कमियां दूर करने जुटा एम्स प्रबंधन

एम्स के अंदर रंगरोगन व परिसर में पौधरोपण का काम भी तीव्र गति से किया जा रहा है। कायाकल्प की टीम एम्स का करीब ५ बार निरीक्षण कर चुकी है।

By: abhishek rai

Published: 08 Dec 2019, 11:26 AM IST

रायपुर. राजधानी का अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का निरीक्षण करने जनवरी के पहले सप्ताह में कायाकल्प की टीम एकबार फिर निरीक्षण करने पहुंचेगी। टीम के आने से पहले एम्स में व्याप्त कमियों को दूर करने में प्रबंधन जुट गया है। प्रबंधन ने सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश दिया है कि २५ दिसंबर के पहले विभाग में व्याप्त कमियों को दूर कर लिया जाए। ऑपरेशन थियेटर में जो-जो उपकरण व संसाधन नहीं है उन्हें तुरंत मंगा ले। एम्स के अंदर रंगरोगन व परिसर में पौधरोपण का काम भी तीव्र गति से किया जा रहा है। कायाकल्प की टीम एम्स का करीब ५ बार निरीक्षण कर चुकी है। विगत एक सप्ताह पहले आई टीम ने न्यूक्लियर समेत सभी 35 डिपार्टमेंट तथा संचालित 19 ओटी का निरीक्षण किया था। टीम ने एम्स की व्यवस्थाओं को वल्र्ड क्लास बताया था। बताते चले कि एम्स ने साफ-सफाई और चिकित्सकीय संसाधनों की रैंकिंग में 2015-16, 2016-2017 में 50-50 लाख रुपए का सांत्वना पुरस्कार जीत चुकी है। इस बार एम्स प्रबंधन ने प्रथम पुरस्कार ५ करोड़ की राशि जीतने के लिए जुट गया है। कायाकल्प योजना की रैंगिंग में प्रथम आने वाले हॉस्पिटल को पांच करोड़, द्वितीय को ढाई करोड़ और तृतीय को एक करोड़ मिलता है।

७-१० जनवरी के बीच टीम के आने की संभावना है। सभी विभागाध्यक्षों को २५ दिसंबर तक विभागों का काम पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। मरीजों के लिए दो इलेक्ट्रिक गाड़ी की भी खरीदी की गई है।
डॉ. करन पीपरे, अधीक्षक, एम्स, रायपुर

abhishek rai Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned