आंबेडकर अस्पताल में स्टाफ की कमी, शुरू नहीं हो पा रही बाइपास सर्जरी

एसीआई में स्थापित हार्टलंग्स मशीन का मरीजों को नही मिल पा रहा है लाभ

By: VIKAS MISHRA

Published: 17 Nov 2020, 07:32 PM IST

रायपुर. राजधानी के आंबेडकर अस्पताल में एडवांस कार्डियक इंस्टीट्यूट (एसीआई) के कार्डियो थोरेसिक एंड वेस्कुलर सर्जरी (सीटीवीएस) विभाग में फेफड़े व खून के नसों की सर्जरी की जा रही है, लेकिन स्टाफ की कमी की वजह से बाइपास सर्जरी शुरू नहीं हो पा रही है।
बाइपास सर्जरी के लिए आने वाले मरीजों की वेटिंग 1400 के पार पहुंच चुकी है। इमरजेंसी वाले मरीज निजी अस्पतालों में सर्जरी कराने के लिए मजबूर हैं। निजी अस्पतालों में 4 से 10 लाख रुपए खर्च करने पड़ते हैं। आंबेडकर अस्पताल में सर्जरी शुरू होने पर मरीजों का खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना के तहत नि:शुल्क होगा। उम्मीद जताई जा रही है कि सर्जरी जल्द शुरू होगी। विभाग में परफ्यूनिष्ट, कार्डियक सर्जरी फिजिशियन असिस्टेंट, कार्डियक इनटेंसनविस्ट, कार्डियक एनेस्थेटिक और प्रशिक्षित नर्सिंग स्टाफ के अभाव में बाइपास सर्जरी शुरू नही हो पा रही है। स्टाफ की कमी को दूर करने के लिए 2019-20 के अनुपूरक बजट में 195 सीट पारित हो चुका है, लेकिन भर्ती आदेश अब तक नहीं हुआ है। पूरा मामला वित्त विभाग में अटका हुआ है। अस्पताल के एक चिकित्सक ने बताया कि एस्कार्ट के अधिग्रहण के समय निजी प्रबंधन ओपन हार्ट सर्जरी व बाइपास सर्जरी से संबंधित सारे उपकरण अपने साथ ले गया था। हार्टलंग्स मशीन खरीदी गई है। 60 प्रतिशत उपकरण की खरीदी बाकी है। फिर भी स्टाफ होने पर बाइपास सर्जरी शुरू की जा सकती है।
निजी अस्पतालों से मिलेगी राहत
आंबेडकर अस्पताल में बाइपास सर्जरी नही होने के कारण मरीजों को निजी अस्पतालों तथा बड़े शहरों में जाना पड़ता है। लाखों रुपए खर्च करने पड़ते हैं। आंबेडकर अस्पताल में बायपास सर्जरी शुरू होने से मरीजों को काफी राहत मिलेगी। 1 नवंबर 2017 में एस्कार्ट के अधिग्रहण के बाद एसीआई शुरू हुआ है। यहां अब तक 700 के करीब छाती, फेफड़ों एवं खून की नसों की सर्जरी की गई है। कई ऐसी सर्जरी हुई है जो छत्तीसगढ़ में पहली बार किया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के उच्च अधिकारियों से बाइपास सर्जरी शुरू करने को लेकर विगत दो दिनों पहले मुलाकात की गई है। उन्होंने आश्वासन दिया है कि जल्द ही सारी समस्याओं का निराकरण कर दिया जाएगा। उम्मीद है जल्द अस्पताल में बाइपास सर्जरी शुरू होगी।
डॉ. केके साहू, विभागाध्यक्ष, सीटीवीएस, आंबेडकर अस्पताल, रायपुर

VIKAS MISHRA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned