6 सितंबर से बनेंगे APL राशन कार्ड, मिलेगी ये सुविधा, बस करना होगा ये काम

APL ration card: राशन कार्ड के नवीनीकरण (Ration Card Renewal) के बाद अब खाद्य विभाग ने गरीबी रेखा से ऊपर वालों के राशन कार्ड (APL) बनाने की कवायद शुरू कर दी है।

By: Ashish Gupta

Updated: 05 Sep 2019, 01:06 PM IST

रायपुर. APL ration card: राशन कार्ड के नवीनीकरण के बाद अब खाद्य विभाग ने गरीबी रेखा से ऊपर वालों के राशन कार्ड एपीएल बनाने की कवायद शुरू कर दी है। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक 6 सितंबर से राशन कार्ड (Ration Card) बनाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इसके तहत 7 लाख आयकर दाता और गैर आयकर दाताओं के राशन कार्ड बनाए जाएंगे।

राशन कार्ड बनवाने के लिए एक आवेदन, दो पासपोर्ट साइज फोटो सहित आधार कार्ड या अन्य पहचान पत्र देना होगा, जिससे साबित हो सके कि आवेदन छत्तीसगढ़ का निवासी है।

खाद्य विभाग सामान्य श्रेणी के कार्डों को दो समूहों में विभक्त करते हुए राशनकार्ड जारी करेगा। इसमें आयकर दाता और गैर आयकर दाता शामिल होंगे।

इन दोनों समूहों के राशन कार्ड धारियों को 10 रुपए प्रति किलो की दर से चावल दिया जाएगा। परिवार में मात्र 1 सदस्य होने पर 10 किलो चावल मिलेगा। 2 सदस्य होने पर 20 किलो और 3 से 5 सदस्य होने पर 35 किलो चावल मिलेगा। 5 से अधिक सदस्य होने पर प्रति सदस्य की दर से 7.7 किलो चावल अतिरिक्त दिया जाएगा।

लेटलतीफी से बढ़ जाएगी परेशानी
मंत्री परिषद ने 12 जून को गरीबी रेखा से ऊपर जीवन यापन करने वालों का राशन कार्ड बनाने का फैसला लिया था। इसके साथ ही 58 लाख परिवारों के राशन कार्डों के नवीनीकरण कराने का फैसला लिया था।

राशन कार्डों के नवीनीकरण की प्रक्रिया काफी लेट हो गई। इनका वितरण अभी शुरू किया गया था। इसके वितरण के बाद अब 6 सितंबर से सामान्य श्रेणी के राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया शुरू होगी।

जानकारों का कहना है कि दिसंबर में नगरी निकाय के चुनाव (Nagriya Nikay Chunav 2019) प्रस्तावित है। इसकी आचार संहिता नवंबर में लगने की संभावना है। यदि 1 माह के भीतर आवेदन लेने, आवेदन पत्रों की जांच और वितरण की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई, तो राशन कार्डों का वितरण चुनाव के बाद ही हो पाएगा।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned