यूथ के लिए नॉलेजबल और प्रैक्टिकली ग्रो करने में मददगार हो रहे एप्स

यूथ के लिए नॉलेजबल और प्रैक्टिकली ग्रो करने में मददगार हो रहे  एप्स

Sumit Yadav | Publish: Feb, 15 2018 01:14:03 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 04:36:44 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

एनआईटी के छात्रों ने बताया अपने मोबाइल में इंस्टाल एप्स के बारे में...

रायपुर. जमाना डिजिटीलाइजेशन की ओर बढ़ रहा है तो जाहिर सी बात है कि स्टडी में भी बदलाव आएंगे। स्टूडेंट अब पढ़ाई के लिए केवल टीचर या कोचिंग पर ही डिपेंड नहीं रह गए वे अब टेक्नोलॉजी का यूज करते हुए अपने फोन पर एेसे कई एप्स इंस्टाल कर रहे हैं जो उनके कॅरियर को ब्राइट करने में सहायक होंगे। आज हमने एनआईटी के आर्किटेक्चर डिपार्टमेंट के स्टूडेंट्स से जाना कि वे किस प्रकार के एप्स का यूज कर रहे हैं।

आर्किटेक्ट को करीब से सीखने का मौका

सिक्स सेमेस्टर के सजल तिवारी ने बताया कि स्टडी के साथ-साथ हम मोबाइल पर एप्स के जरिए थ्योरी को समझते हैं। उन्होंने 'आर्ट एंड कल्चरÓ एवं 'आर्किटेक्ट पॉकेट बुकÓ नाम के दो एप्स इंस्टाल किए हैं जिसमें अबु धाबी की कई तरह की डिजाइन शो होती है। इसके साथ ही इसमें एेसी कई बुक का कॉन्सेप्ट एवं सेलेबस है जो बहुत ही नॉलेजबल है।

प्रैक्टिकली सीखने का सही तरीका

आर्किटेक्चर डिपार्ट में सिक्स सेमेस्टर की स्टूडेंट प्रियंका बघेल ने बताया कि वे 'डिजाइन गाइडÓ और 'फील्ड एरिया मेजरमेंटÓ नाम के दो एप्स अपने हैंडसेट में इंस्टाल किए है। यह एप प्रैक्टिकली रूप से हर एक डिजाइन को समझाने में
हेल्पफुल हैं। इसके अलावा यह आर्किटेक्ट में सोफा, बेड आदि की डिजाइनिंग को बेहतरीन तरीके से दिखाता है।

ट्रेडिशनल और मॉडर्न डिजाइन

स्टूडेंट मिथलेश सिन्हा का कहना है कि वे अपने मोबाइल में 'स्केचप व्यूअरÓ 'अडोव स्केचÓ और कैड ३६० एप को डाउनलोड किए हुए हैं। इन एप्स की खास बात यह है कि यह जो लोग ड्राइंग और स्कैचिंग में रुचि रखते हैं उनको २ डी और ३डी प्रिंट में डिजाइनिंग शो कराई जाती हैं। इसके अलावा इसमें कई तरह की डिजाइन होती है जो ट्रेडीशन और मॉडर्न स्टाइल में होती हैं। वहीं इसको आसानी से एडिट करने के बेहतरीन ऑप्शन प्रजेंट हैं।

आर्किटेक्ट फील्ड में ये एप्स भी पॉपुलर

मॉर्फोलियो ट्रेस
बीमेक्स बाय ग्रेफीसॉफ्ट
स्केचबुक बाय ऑटोडेस्क
शेपर थ्रीडी
मैजिकप्लान
ऑटोडेस्क फार्मल्ट
आर्किस्केच
पिक्सलर एक्सप्रेस
आर्किस्नेपर

 

 

Ad Block is Banned