छत्तीसगढ़-झारखंड सीमा पर हथियारबंद माओवादियों ने 4 वाहनों में लगाई आग

ऑपरेशन प्रहार से पहले माओवादियों का उत्पात
झारखंड के महुआडांड़ थाना क्षेत्र के ग्राम चंपा में दिया वारदात को अंजाम
पीएलएफआई संगठन की संलिप्तता आ रही सामने

raipur/ अंबिकापुर/कुसमी ञ्च पत्रिका. छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर स्थित झारखंड के महुआडांड़ थाना क्षेत्र के ग्राम चंपा में सोमवार की रात करीब 9 बजे 25-30 की संख्या में हथियारबंद वर्दीधारी माओवादियों ने सडक़ निर्माण कार्य में लगे 4 वाहनों में आग लगा दी।

उन्होंने ठेकेदार और मुंशी का मोबाइल नंबर मजदूरों से लिया और उत्पात मचाकर निकल गए। एक वाहन पूरी तरह जलकर खाक हो गया, जबकि मजदूरों ने माओवादियों के जाने के बाद 3 अन्य वाहनों में लगी आग बुझा दिया। सूचना मिलते ही घटनास्थल से करीब 4 किमी दूर छत्तीसगढ़ के बलरामपुर थाना क्षेत्र के करौंधा थाना प्रभारी रात में ही दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे।

फिर उन्होंने मजदूरों से पूछताछ के बाद निर्माण कार्य में लगे अन्य वाहनों को सुरक्षित कैंपस में खड़ा कराया। मजदूरों ने बताया कि माओवादी पेट्रोल भी लेकर आए थे। वारदात में पीएलएफआई संगठन के शामिल होने की बात कही जा रही है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ पुलिस जल्द ही झारखंड बॉर्डर पर माओवादियों के खिलाफ ऑपरेशन प्रहार शुरू करने वाली है। इसके लिए रणनीति भी बनाई जा चुकी है। ज्ञात हो कि 4 दिन पहले ही झारखंड से आए माओवादियों ने छत्तीसगढ़ की सीमा में घुसकर सडक़ निर्माण में लगे 7 वाहनों को आग के हवाले किया था। बंदरचुआ के पास वाहनों में आग लगाए जाने वाले स्थल तथा बंदरचुआ से पुंदाग तक बन रही सडक़ का सोमवार को ही सरगुजा रेंज के आईजी रतनलाल डांगी ने जायजा लिया था।

ramdayal sao Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned