scriptArrested supplier of ganja, syrup, worth 18 lakh 30 thousand | 18 लाख 30 हजार के गांजा, सिरप, इंजेक्शन व नशीली गोलियों की फरार सप्लायर गिरफ्तार | Patrika News

18 लाख 30 हजार के गांजा, सिरप, इंजेक्शन व नशीली गोलियों की फरार सप्लायर गिरफ्तार

मंगलवार को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी रावतपुरा कॉलोनी स्थित अपने घर में है, तो दबिश देकर उसे पकड़ा। आरोपी के कब्जे से मोबाइल पुलिस ने जब्त किया है।

रायपुर

Updated: August 03, 2022 01:32:28 pm

रायपुर. राजधानी रायपुर में गांजा, सिरप, इंजेक्शन और नशीली गोलियों की सप्लाई करवाकर उसे बिकवाने वाली निगरानी बदमाश मोनिका सचदेव को सिविल लाइन पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सिविल लाइन थाने में अपराध पंजीबद्ध होने के बाद आरोपी फरार थी। मंगलवार को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी रावतपुरा कॉलोनी स्थित अपने घर में है, तो दबिश देकर उसे पकड़ा। आरोपी के कब्जे से मोबाइल पुलिस ने जब्त किया है।

नशे के कारोबार में लंबे समय से एक्टिव
सिविल लाइन थाना प्रभारी सत्यप्रकाश तिवारी ने बताया कि हत्थे चढ़ी निगरानी बदमाश पैडलर है। लंबे समय से वो नशे के कारोबार में सक्रिय है। सिविल लाइन पुलिस ने एनडीपीएस में बड़ी कार्रवाई करके पूर्व में 9 आरोपियों को पकड़ा था। इन आरोपियों ने पूछताछ के दौरान मोनिका सचदेव के कहने पर सामान भेजने और उसे शहर में बेचने की बात बताई थी।

इस तरह बनाया था नेटवर्क
पुलिस के अनुसार मोनिका ने अपने कारोबार को अंजाम देने के लिए रायपुर के बाहर लोगों से संपर्क किया। नशीली सामग्री आसानी से रायपुर आ सके और उसकी बिक्री की जा सके, इसलिए उसने ओडिशा, सरायपाली, कोलकाता, बिहार, पश्चिम बंगाल के सप्लायरों से संपर्क किया। वहां से सामग्री मंगवाकर शहर में नशीली सामग्री बेचने वाले आरोपियों को मुहैय्या करवाती थी।

इन आरोपियों से निकला संपर्क
पुलिस के अनुसार आरोपी मोनिका का एनडीपीएस के मामले में गिरफ्तार हो चुके तौकिर अहमद, शेख महबूब, रविनारायण दीप, तापस कुमार, समीर कुमार, नीलेश शर्मा, अर्णब मजूमदार, कमलेश उर्फ अमर यादव और सागर कुमार मोदी से संपर्क निकला है।

इस मामले में फरार
मार्च 2022 में रायपुर पुलिस ने नशीली गोलियां, इंजेक्शन और सिरप बेचने वाले बड़े गिरोह का खुलासा किया था। इस गिरोह के लोगों का चार राज्यों में संपर्क निकला था और सभी मेडिकल स्टोर की आड़ में कारोबार को अंजाम दे रहे थे। इन आरोपियों से 18 लाख 30 हजार से ज्यादा का सामान जब्त किया गया था। इस गिरोह में रायपुर के आरोपियों का नाम भी सामने आया था। इन आरोपियों को पुलिस फरार बता रही थी।

ganja.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

सुशील कुमार मोदी का नीतीश सरकार पर हमला, कहा - 'लालू के दामाद और कार्यकर्ता चला रहे सरकार, नीतीश लाचार'CM हेमंत सोरेन के आवास पर आज UPA की बैठक, JMM, कांग्रेस और RJD होंगे शामिलड‍िप्‍टी सीएम मनीष स‍िसोद‍िया के यहां CBI की रेड के बाद LG का बड़ा आदेश, 12 IAS अफसरों का ट्रांसफरमनीष सिसोदिया के घर समेत 31 जगहों पर रेड, 17 अगस्त को ही दर्ज हुई थी FIR, CBI ने जारी की पूरी डीटेलउपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास पर CBI की छापेमारी के बाद आम आदमी पार्टी ने किया ऐलान - '2024 में मोदी Vs केजरीवाल'PICS: देशभर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, सुनाई दे रही जयश्री कृष्णा की गूंजक्यों मनीष सिसोदिया के घर पर CBI कर रही छापेमारी? जानिए क्या है पूरा मामलामहाकाल की शाही सवारी 22 को, चार लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.