कोरोना गाइडलाइन ताक पर रख अलसुबह तक बार गुलजार, पुलिस कर रही शिकायत का इंतजार

राजधानी रायपुर में इन दिनों कई डांस बार अलसुबह तक गुलजार नजर आते हैं। पुलिस के तमाम दावों के बाद भी शराब बार देर रात तक गुलजार हो रहे हैं। यही नहीं, कुछ बारों में तो अल सुबह तक शराब और शबाब की महफिल सजती है।

 

By: Karunakant Chaubey

Published: 30 Dec 2020, 02:34 PM IST

Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

दिनेश यदु@रायपुर. कोरोना गाइडलाइन को दरकिनार कर प्रदेश की राजधानी रायपुर में इन दिनों कई डांस बार अलसुबह तक गुलजार नजर आते हैं। पुलिस के तमाम दावों के बाद भी शराब बार देर रात तक गुलजार हो रहे हैं। यही नहीं, कुछ बारों में तो अल सुबह तक शराब और शबाब की महफिल सजती है।

ऐसा ही नजारा शहर के वीआईपी रोड स्थित जूक बार में आए दिन देखने को मिल रहा है। यहां हर रविवार को स्पेशल डीजे बुलाए जाते हैं। इसमें रायपुर समेत पड़ोसी शहरों के युवक-युवतियां हाथों में जाम थामे अलसुबह तक थिरकते नजर आते हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि कुछ माह पहले ही वीआईपी रोड में प्रतिबंध के बावजूद देर रात आयोजित एक पार्टी में एक शख्स ने अपनी पिस्टल से गोली चलाकर खौफजदा कर दिया था। इसके बावजूद मनमानी जारी है।

जिला प्रशासन व पुलिस जहां एक ओर कोरोना संक्रमण का हवाला लेकर सभी होटल एवं डांस बार को समय पर बंद कराने का दावा करती है। वहीं पुलिस की इस दावे को गलत साबित करते हुए डांस बार बेखौफ होकर अलसुबह तक खुले रहते हैं। यही नहीं, पुलिस की दलील है कि शिकायत आएगी, तब ही उन बारों पर कोई कार्रवाई की जाएगी।

रविवार को वीआईपी रोड स्थित जूक डांस बार में रात 12 बजे के बाद का नजारा कुछ ना कुछ मुंबई जैसा दिखाई दिया। यहां युवक-युवतियां को डांस के साथ-साथ खुलेआम शराब और नाबालिगों को हुक्का समेत सूखा नशा परोसा जा रहा था। इसके लिए बार में अलग से स्मोकिंग जोन बनाया गया है। डांस बार में कई ऐसे लोग दिखे, जिनके खिलाफ शहर के कई थानों में संगीन अपराध दर्ज है।

सूत्रों ने जानकारी देते हुए कहा, पार्टी में एंट्री तीन हजार रुपए के रिचार्ज कूपन के आधार पर दी जाती है। इसके साथ डांस बार के बाहर नशे में धुत्त युवक-युवती के बीच विवाद होता नजर आया, जिसे वहां पर मौजूद डांस बार के बाउंसरों द्वारा सुलझा लिया जाता है। जिसकी रिपोर्ट थाने तक नहीं पहुंचती है।

आधी रात तक शराब पार्सल

कोरोना संक्रमण के कारण जिला प्रशासन द्वारा बार के खोलने व बंद करने का समय निर्धारण किया गया है। फिर भी शहर में कई एेसे बार हैं जहां से आधी रात के बाद भी शराब पार्सल की सुविधा अवैध तरीके से दी जाती है। ज्यादातर रिंग रोड के मधुशाला बार में इस तरह से शराब बेची जा रही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned